Home » Economy » Policyमूडीज ने ग्रोथ का अनुमान घटाकर 7.3% किया, कहा- मानसून से सपोर्ट मिलने की उम्‍मीद

मूडीज ने ग्रोथ का अनुमान घटाकर 7.3% किया, कहा- मानसून से सपोर्ट मिलने की उम्‍मीद

मूडीज इन्‍वेस्‍टर्स सर्विस ने 2018 के लिए भारत की जीडीपी ग्रोथ का अनुमान 7.5 फीसदी से घटाकर 7.3 फीसदी कर दिया है।

1 of

नई दिल्‍ली. मूडीज इन्‍वेस्‍टर्स सर्विस ने 2018 के लिए भारत की जीडीपी ग्रोथ का अनुमान 7.5 फीसदी से घटाकर 7.3 फीसदी कर दिया है। रेटिंग एजेंसी ने कहा है कि भारतीय अर्थव्‍यवस्‍था में  रिकवरी है लेकिन तेल की बढ़ती कीमतें और राजकोषीय दबाव बढ़ने से इसकी रफ्तार धीमी होगी। हालांकि, मूडीज ने 2019 के लिए 7.5 फीसदी ग्रोथ रेट के अनुमान को बरकरार रखा है। 

 

 

रेटिंग एजेंसी ने अपने 'ग्‍लेाबल मैक्रो आउटलुक 2018-19' में कहा कि भारतीय अर्थव्‍यवस्‍था निवेश और खपत दोनों ही मोर्चों पर सुधर रही है। लेकिन अंतरराष्‍ट्रीय बाजार में कच्‍चे तेल की ऊंची कीमतें और वित्‍तीय दबाव बढ़ने से ग्रोथ की रफ्तार धीमी होगी। हमारा अनुमान है कि 2018 में जीडीपी ग्रोथ करीब 7.3 फीसदी रहेगी, जोकि हमारे पहले के 7.5 फीसदी के अनुमान से कम है। हालांकि, 2019 के लिए हमारा ग्रोथ का अनुमान 7.5 फीसदी ही है। 

 

MSP और मानसून से ग्रोथ को मिलेगा सपोर्ट 
मूडीज ने कहा है कि फसलों के लिए अधिक न्‍यूनतम समर्थन मूल्‍य (एमएसपी) और सामान्‍य मानसून के चलते ग्रामीण क्षेत्रों में खपत बढ़ेगी, जिससे ग्रोथ को बूस्‍ट मिलने की उम्‍मीद है। दूसरी ओर, निजी निवेश में धीरे-धीरे रिकवरी बनी रहेगी। इन्‍सॉल्‍वेंसी और बैंकरप्‍सी कोड लागू होने से बैंकों और कॉरपोरेट की बैलेंस सीट का मसला धीरे-धीरे हल होगा। वहीं, जीएसटी अभी धीरे-धीरे सेटल हो रहा है इसके चलते अगली कुछ तिमाहियों तक इसका दबाव ग्रोथ पर दिखाई देगा। हालांकि उम्‍मीद है कि एक साल में यह मामला सेटल हो जाएगा। 

 

ग्‍लोबल अर्थव्‍यवस्‍था में रह सकती है नरमी 
ग्‍लोबल अर्थव्‍यवस्‍था के बारे में मूडीज का कहना है कि 2018 में ग्‍लोबल ग्रोथ उतनी ही रहेगी, जितनी 2017  में थी। हालांकि 2018 के आखिर और 2019 में ग्‍लोबल ग्रोथ धीमी रह सकती है। क्‍योंकि, विकसित देशों में जॉब डाटा उत्‍साहित करने वाला नहीं है। साथ ही उधारी लागत बढ़ने और कर्ज देने शर्तें सख्‍त होने से विकसित और इमर्जिंग दोनों देशों की ग्रोथ पर असर होगा। जी-2 0 देशों की ग्रोथ 2018 में 3.3 फीसदी और 2019 में 3.2 फीसदी होगी। विकसित देश की ग्रोथ 2018 में घटकर 2.3 फीसदी और 2019 में 2.0 फीसदी हो जाएगी। हालांकि, जी-20 इमर्जिंग मार्केट ग्रोथ को रफ्तार देंगे और इनकी ग्रोथ रेट 2018 व 2019 5.2 फीसदी रहेगी। 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट