बिज़नेस न्यूज़ » Economy » Policyकेरल की बाढ़ ने सोने की चमक की फीकी, ओणम में गोल्ड ज्वैलरी की सेल पर पड़ा असर

केरल की बाढ़ ने सोने की चमक की फीकी, ओणम में गोल्ड ज्वैलरी की सेल पर पड़ा असर

ओणम में गोल्ड ज्वैलरी की खरीदारी सबसे ज्यादा होती है लेकिन इस साल बाढ़ ने ज्वैलर्स के बिजनेस पर सबसे ज्यादा असर डाला है।

Kerala Flood affected gold jewellary sale in onam

नई दिल्ली। केरल में बाढ़ और मूसलाधार बारिश के कारण करीब 400 लोगों की मौत हो चुकी है। राज्य को बाढ़ के कारण करीब 19,512 करोड़ रुपए का नुकसान हो चुका है। अब बाढ़ का असर 25 अगस्त को ओणम की सेल पर भी नजर आने वाला है। कारोबारियों के अनुसार ओणम में गोल्ड ज्वैलरी की खरीदारी सबसे ज्यादा होती है लेकिन इस साल बाढ़ ने ज्वैलर्स के बिजनेस पर सबसे ज्यादा नेगेटिव असर डाला है।

 

ज्वैलरी की सेल है 80 फीसदी डाउन

 

वर्ल्ड गोल्ड काउंसिल के मुताबिक देश में सालाना 700 से 800 टन गोल्ड की सेल होती है। केरल में सालाना 85 से 90 टन गोल्ड सालाना खरीदा जाता है। ओणम के त्योहार के समय केरल के 14 से अधिक डिस्ट्रिक बाढ़ग्रस्त हैं। थ्रिसूर और कालीकट में ज्यादातर गोल्ड ज्वैलरी मैन्युफैक्चरिंग यूनिट्स हैं जो कि पानी में डूबे हुए हैं। आर्टिजन अपने रोजाना के सरवाइवल के लिए परेशान हैं क्योंकि ज्यादातर दुकानें बंद है जिसके कारण गोल्ड ज्वैलरी की सेल 70 से 80 फीसदी डाउन है।

 

बाढ़ का असर पड़ा ज्वैलरी की सेल पर

 

केरल देश का बड़ा गोल्ड कन्ज्यूमर राज्य है। ओणम केरल का सबसे बड़ा त्योहार है। यहां ओणम के समय लोग गोल्ड ज्वैलरी खरीदना पसंद करते हैं। देश के कुल गोल्ड सेल का 5 से 7 फीसदी इसी फेस्टिवल के दौरान होता है जिसपर नेगेटिव असर दिखने वाला है। इंडिया बुलियन एंड ज्वैलर्स एसोसिएशन के मुताबिक केरल में गोल्ड ज्वैलरी का बड़ा खरीददार राज्य है। ओणम के समय बाढ़ के कारण यहां सेल5 से 7 फीसदी कम हुई है। कारोबारियों के मुताबिक राज्य में बाढ़ के कारण केरल में सेंटीमेंट काफी खराब है।

 

 

 

 

 

 

 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट