Home » Economy » PolicyJune manufacturing PMI rose from 51.2 in May to 53.1 in June

जून मैन्युफैक्चरिंग PMI में दिसंबर 2017 के बाद सबसे ज्यादा तेजी, 53.1 पर पहुंचा इंडेक्स

जून मैन्युफैक्चरिंग PMI इंडेक्स में दिसंबर 2017 के बाद सबसे ज्यादा तेजी दिखी।

June manufacturing PMI rose from 51.2 in May to 53.1 in June

नई दिल्ली। भारत की मैन्‍युफैक्‍चरिंग सेक्‍टर एक्‍टि‍वि‍टी में अच्छी ग्रोथ दर्ज की गई है। जून मैन्युफैक्चरिंग PMI इंडेक्स में दिसंबर 2017 के बाद सबसे ज्यादा तेजी दिखी और इंडेक्स 53.1 के स्तर पर पहुंच गया। नि‍क्‍केई इंडि‍या मैन्‍युफैक्‍चरिंग पर्चेजिंग मैनेजर्स इंडेक्‍स (PMI) के मंथली सर्वे में कहा गया है कि‍ घरेलू स्तर पर जहां ऑर्डर बढ़े, वहीं एक्सपोर्ट में भी इजाफा होने से इंडेक्स में तेजी आई। 

 

 

लगातार 11वें महीने इंडेक्स 50 के स्तर से ऊपर
बता दें कि लगातार 11वें महीने मैन्‍युफैक्‍चरिंग PMI 50 अंक के ऊपर बना हुआ है। मई में मैन्‍युफैक्‍चरिंग PMI गि‍रकर 51.2 पर पहुंच गया था जोकि‍ अप्रैल में 51.6 पर था। हालांकि मई में मैन्‍युफैक्‍चरिंग की हालत में धीमी गति‍ के साथ सुधार के संकेत मिले थे। 

 

नए ऑर्डर में आई तेजी 
आईएचएस मार्कि‍ट के इकोनॉमि‍स्‍ट और रि‍पोर्ट की लेखि‍का आशना डोढि‍या ने कहा कि ताजा PMI सर्वे इस बात का संकेत दे रहा है कि डिमांड में मजबूती आने से भारत में मैन्युफैक्चरिंग की रफ्तार तेज हुई है। दिसंबर के बाद से नए ऑर्डर में सबसे ज्यादा तेजी रही है। डिमांड घरेलू और ग्लोबल दोनों ही स्तरों पर बेहतर रही।  जिसकी वजह से मैन्युफैक्चरिंग फर्म्स ने जहां पर्चेजिंग तेज किया, वहीं स्टॉफ की संख्‍या भी बढ़ाई है। 

 

आरबीआई बढ़ा सकता है दरें
रिपोर्ट के अनुसार इस दौरान इनपुट कास्ट इनफ्लेशन और आउटपुट चार्जेज में तेजी आई है। यह इस बात के संकेत हैं कि आने वाले दिनों में सेंट्रल बैंक आरबीआई मॉनेटरी पॉलिसी में ब्याज दरें बढ़ाने का फैसला ले सकता है। बता दें कि एमपीसी की पिछली बैठक में ब्याज दरों में 25 बेसिस प्वॉइंट की बढ़ोत्तरी हुई थी। 

 

जॉब के अवसर बढ़े
आशना डोढि‍या के मुताबिक इस दौरान नए रोजगार के अवसर भी बढ़े हैं। दिसंबर 2017 के बाद सबसे ज्यादा जॉब क्रिएट हुई हैं, जिससे लेबर मार्केट मजबूत हुआ है। 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट