बिज़नेस न्यूज़ » Economy » Policyपैन कार्ड के नाम पर चल रही हैं फर्जी वेबसाइट, सरकार ने किया अलर्ट

पैन कार्ड के नाम पर चल रही हैं फर्जी वेबसाइट, सरकार ने किया अलर्ट

अगर आप ऑनलाइन पैन कार्ड बनवाने जा रहे हैं तो सावधान हो जाएं।

1 of

नई दिल्‍ली. अगर आप ऑनलाइन पैन कार्ड बनवाने जा रहे हैं तो सावधान हो जाएं। देश में ऑनलाइन पैन कार्ड बनाने को लेकर फर्जी वेबसाइट्स चल रही हैं। इस बारे में खुद इनकम टैक्‍स डिपार्टमेंट ने नागरिकों को आगाह किया है। 

 

डिपार्टमेंट ने एक सर्कुलर जारी किया है, जिसमें कहा गया है कि इनकम टैक्‍स डिपार्टमेंट ने पैन एप्‍लीकेशंस की प्राप्ति और उनकी प्रोसेस के लिए केवल दो एंटिटीज को नियुक्‍त किया हुआ है। ये एंटिटीज हैं- NSDL ई-गवर्नेंस इंफ्रास्‍ट्रक्‍चर लिमिटेड (NSDL e- Gov) और UTI इंफ्रास्‍ट्रक्‍चर टेक्‍नोलॉजीस सर्विसेज लिमिटेड। इसके अलावा किसी और एंटिटी को पैन कार्ड से संबंधित काम करने के लिए इनकम टैक्‍स डिपार्टमेंट ने ऑथराइज्‍ड नहीं किया है। इसलिए पैन आवेदनकर्ता NSDL की वेबसाइट से ही पैन के लिए आवेदन करें। 

 

आगे पढ़ें- जरूर चेक करें वेबसाइट 

चेक जरूर कर लें URL

NSDL e- Gov केवल TIN-फैसिलिटेशन सेंटर्स/पैन सेंटर्स/ऑनलाइन रिक्‍वेस्‍ट्स के जरिए पैन एप्‍लीकेशंस लेती और उनकी प्रोसेसिंग करती है। इस बारे में अधिक जानकारी www.tin-nsdl.com पर मौजूद है। इसलिए NSDL e-Gov की ऑनलाइन सर्विस का इस्‍तेमाल करने वाले पैन आवेदनकर्ताओं को इनकम टैक्‍स डिपार्टमेंट ने सलाह दी है कि वह यह जरूर चेक कर लें कि जिस ऑनलाइन फैसिलिटी को वे इस्‍तेमाल कर रहे हैं, वह NSDL e-Gov की ही हो। NSDL e-Gov के URL के अलावा किसी अन्‍य URL पर जाकर किसी भी तरह की प्रोसेस या फीस का पेमेंट न करें। 

 

आगे पढ़ें- नुकसान हुआ तो NSDL नहीं होगा जिम्‍मेदार

नुकसान हुआ तो NSDL e-Gov नहीं होगा जिम्‍मेदार 

अगर कोई पैन आवेदनकर्ता किसी अनऑथराइज्‍ड URL के जरिए पैन संबंधित काम कर रहा है तो इसके जोखिमों का जिम्‍मेदार वह खुद है। चेतावनी के बावजूद किसी भी अनऑथराइज्‍ड इन्‍सान/एंटिटी या वेबसाइट/पोर्टल और ऐसी एंटिटी से जुड़े इन्‍सान/अधिकारी/निदेशक/स्‍टाफ के जरिए पैन संबंधित काम करने पर पैन आवेदनकर्ता को होने वाले किसी भी तरह के फाइनेंशियल या नॉन फाइनेंशियल नुकसान के लिए NSDL e- Gov जिम्‍मेदार नहीं है। साथ ही NSDL e-Gov इस तरह की प्रोसेस से आपकी पर्सनल इन्‍फॉर्मेशन और पेमेंट क्रिडेन्शियल शेयर होने के लिए भी जिम्‍मेदार नहीं होगा। 

 

आगे पढ़ें- ईमेल से हासिल करें अधिक डिटेल

अधिक जानकारी के लिए कर सकते हैं ईमेल 

सर्कुलर में इनकम टैक्‍स डिपार्टमेंट ने यह भी कहा है कि अगर आप इस मामले में कोई और जानकारी चाहते हैं तो आप tininfo@nsdl.co.in पर ईमेल भी डाल सकते हैं। 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट