Home » Economy » Policydiscount on train tickets for students in india

स्टूडेंट्स को रेल टिकट पर 7 कैटेगरी में मिलती है छूट, फ्री में भी कर सकते हैं सफर

स्‍कूल या कॉलेज आना-जाना, टूर, रिसर्च वर्क आदि है शामिल..

1 of

नई दिल्‍ली. अगर आप स्‍टूडेंट यानी छात्र हैं तो भारतीय रेलवे आपको डिस्‍काउंटेड रेट पर सफर कराता है। यह डिस्‍कांउट कुछ खास कैटेगरी के तहत मिलता है, जिनमें घर से स्‍कूल या कॉलेज आना-जाना, टूर, विदेशी छात्रों का सफर, रिसर्च वर्क से संबंधित ट्रैवल आदि समेत 7 कैटेगरी शामिल है। स्‍टूडेंट्स के लिए रेल टिकट पर डिस्‍काउंट 25 फीसदी से शुरू होता है और फ्री में सफर की भी सुविधा रहती है। आइए आपको बताते हैं कि स्‍टूडेंट्स को किन उद्देश्‍य के लिए रेल सफर में कितने फीसदी तक का डिस्‍काउंट उपलब्‍ध है- 

 

होमटाउन या एजुकेशनल टूर पर जाना

भारतीय रेलवे अपने गृह नगर यानी होमटाउन और एजुकेशनल टूर पर जाने वाले छात्रों को सस्‍ते में सफर का मौका देता है। इसके तहत-  
- जनरल कैटेगरी वाले स्‍टूडेंट्स के लिए सेकंड और स्‍लीपर क्‍लास के किराए में 50 फीसदी की छूट देता है। MST/QST रखने वालों को भी 50 फीसदी डिस्‍काउंट मिलता है। 
- वहीं SC/ST कैटेगरी वाले स्‍टूडेंट्स को सेकंड व स्‍लीपर क्‍लास टिकट या MST/QST से सफर पर 75 फीसदी की छूट मिलती है। 

 

घर से स्‍कूल आना-जाना

- लड़कियां ग्रेजुएशन तक MST से सेकंड क्‍लास में फ्री में सफर कर सकती हैं। वहीं लड़के 12वीं क्‍लास तक MST से सेकंड क्‍लास में फ्री में सफर कर सकते हैं। 
- इसमें मदरसे के बच्‍चे भी शामिल हैं। 

 

ग्रामीण इलाकों के बच्‍चों का सालाना टूर

गांवों के सरकारी स्‍कूल में पढ़ने वाले बच्‍चों को साल में एक बार स्‍टडी टूर के लिए सेकंड क्‍लास की रेल टिकट में 75 फीसदी छूट मिलती है। 

 

एंट्रेंस और सरकारी नौकरी के लिए लिखित परीक्षा देने जाना

- ग्रामीण इलाकों के सरकारी स्‍कूल में पढ़ने वाली लड़कियों को मेडिकल, इंजीनियरिंग आदि के एंट्रेंस एग्‍जाम के लिए रेल टिकट पर 75 फीसदी छूट मिलती है। यह छूट सेकंड क्‍लास से सफर के लिए रहती है। 
- UPSC और सेंट्रल स्‍टाफ सिलेक्‍शन कमीशंस द्वारा आयोजित मुख्‍य लिखित परीक्षा देने वाले स्‍टूडेंट्स को रेल किराए में 50 फीसदी की छूट रहती है। यह सेकंड क्‍लास से सफर पर लागू होती है।

 

आगे पढ़ें- अन्‍य कौन सी कैटेगरी

 

ये भी पढ़ें- मरीजों को रेल टिकट पर मिलती है 100% तक छूट, AC में भी कर सकते हैं सफर

रिसर्च स्‍टूडेंट्स, कैंप में जाने वाले स्‍टूडेंट्स

 भारतीय रेलवे 35 साल तक के रिसर्च स्‍कॉलर्स को रिसर्च से जुड़े कामों के लिए रेल सफर करने के लिए टिकट पर 50 फीसदी की छूट उपलब्‍ध कराता है। यह छूट सेकंड और स्‍लीपर क्‍लास से सफर पर लागू होती है। 
- वर्क कैंप में भाग लेने जा रहे स्‍टूडेंट्स या नॉन-स्‍टूडेंट्स को सेकंड और स्‍लीपर क्‍लास रेल टिकट पर 25 फीसदी की छूट मिलती है। 

 

आगे पढ़ें- बाकी की दो कैटेगरी

 

ये भी पढ़ें- बेरोजगार युवाओं को रेल टिकट पर मिलती है 100% तक की छूट, डॉक्‍टर भी ले सकते हैं 10% डिस्‍काउंट

विदेशी छात्र

भारत में पढ़ने वाले विदेशी छात्रों को भारत सरकार द्वारा आयोजित कैंप या सेमिनार में जाने के लिए रेलवे सेकंड और स्‍लीपर क्‍लास टिकट में 50 फीसदी डिस्‍काउंट देता है। यह डिस्‍काउंट छुट्टियों में ऐतिहासिक और अन्‍य महत्‍वपूर्ण जगहों पर जाने के लिए भी रहता है।

 

मरीन इंजीनियर्स अप्रेंटिस

- मर्केंटाइल मरीन की नेविगेशनल या इंजीनियरिंग ट्रेनिंग करने वाले कैडेट्स और मरीन इंजीनियर अप्रेंटिस को रेलवे सेकंड क्‍लास और स्‍लीपर क्‍लास टिकट पर 50 फीसदी की छूट देता है। यह छूट उन्‍हें घर से ट्रेनिंग शिप पर आने-जाने के उद्देश्‍स से सफर करने पर मिलती है। 

 

सोर्स- http://www.indianrailways.gov.in/railwayboard/uploads/directorate/traffic_comm/Passenger_Information_2018/concession%20list.pdf

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट