बिज़नेस न्यूज़ » Economy » Policyज्वैलर्स EMI स्कीम पर नहीं बेच पाएंगे गोल्ड, सरकार लाई नया बिल

ज्वैलर्स EMI स्कीम पर नहीं बेच पाएंगे गोल्ड, सरकार लाई नया बिल

अब ज्वैलर्स ईएमआई स्कीम के जरिए गोल्ड नहीं बेच पाएंगे। कैबिनेट अनरेग्युलेटेड डिपोजिट स्कीम बिल 2018 पर बैन लगाने पर मंजू

1 of

नई दिल्ली। अब ज्वैलर्स ईएमआई स्कीम के जरिए गोल्ड नहीं बेच पाएंगे। कैबिनेट अनरेग्युलेटेड डिपोजिट स्कीम बिल 2018 पर बैन लगाने पर मंजूरी दे दी है। हालांकि, ज्वैलर्स एसोसिएएशन का कहना है कि ज्यादातर सभी ज्वैलर्स ने 11+1 स्कीम के तहत गोल्ड बेचना बंद कर दिया है। जो ज्वैलर्स दूसरी तरह की ईएमआई स्कीम के तहत ज्वैलरी बेच रहे हैं, वह अब इसके तहत नए कस्टमर्स का रजिस्ट्रेशन नहीं कर रहे हैं।

आ रही थी शिकायतें

लोगों की तरफ से इस स्कीम में फंसने की शिकायतें आ रही थी जिसके बाद जिसके बाद सरकार ने अनरेग्युलेटेड डिपोजिट स्कीम बिल 2018 लेकर आई है।बिल के तहत अनरेग्युलेटेड स्कीम का प्रमोशन, ऑपरेट करना, विज्ञापन जारी करना बैन है। बिल में इसे तीन तरह से अपराध बताया है। हालांकि, अभी ये साफ नहीं है कि गोल्ड सेविंग स्कीम पॉन्जी स्कीम के तहत आएगा या नहीं।

ज्वैलर्स लेंगे कानूनी सलाह

जेम्स एंड ज्वैलरी ट्रेड फेडरेशन के चेयरमैन नितिन खंडेलवाल ने कहा कि कि गोल्ड सेविंग स्कीम नए बिल के तहत आएगी या नहीं इसके लिए कानूनी सलाह ली जा रही है। उन्होंने कहा कि फेडरेशन इस हफ्ते तक अपना रिप्रेजेन्टेशन फाइनेंस मिनिस्ट्री को इस हफ्ते तक देगा।

छोटे ज्वैलर्स चलाते हैं ईएमआई स्कीम

छोटे ज्वैलर्स 11+1 जैसी गोल्ड सेविंग ईएमआई स्कीम चलाते हैं। नए बिल से ऐसी स्कीम भी बंद हो जाएगी। अब छोटे ज्वैलर्स ने मंथली सेविंग गोल्ड स्कीम में नए कस्टमर को एनरोल करना बंद कर रहे हैं।


 


 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट