बिज़नेस न्यूज़ » Economy » Policyनोटबंदी के बाद चेन्नई में सबसे बड़ी इनकम टैक्स रेड, 160 करोड़ कैश बरामद, 18 महीने में मोदी सरकार ने की 5 बड़ी छापेमारी

नोटबंदी के बाद चेन्नई में सबसे बड़ी इनकम टैक्स रेड, 160 करोड़ कैश बरामद, 18 महीने में मोदी सरकार ने की 5 बड़ी छापेमारी

चेन्नई में इनकम टैक्स डिपार्टमेंट ने रेड के दौरान 100 किलोग्राम सोना बरामद किया है।

1 of

नई दिल्ली। नोटबंदी के बाद एक बार फिर मोदी सरकार एक्शन में है। इनकम टैक्स डिपार्टमेंट ने नोटबंदी के बाद अब तक की सबसे बड़ी रेड को अंजाम दिया है। टैक्स डिपार्टमेंट ने चेन्नई में 100 किलो सोना और 160 करोड़ रुपए का कैश बरामद किया है। इस रेड में अरबों की ब्लैकमनी का खुलासा हुआ है। यह छापा चेन्नई में रोड कॉन्ट्रैक्टर नागराजन सेय्यदुरई की कंपनी एसकेजी ग्रुप के दफ्तरों पर मारा गया है। ऑपरेशन पार्किंग मनी के नाम से शुरू हुए इस ऑपरेशन में इनकम टैक्स डिपार्टमेंट ने तमिलनाडु में 22 अलग-अलग जगहों पर छापे मारे हैं। जानिए नोटबंदी के बाद की 5 बड़ी रेड...

 

1.नोटबंदी के बाद सबसे बड़ी रेड

बरामद-100 किलो सोना और 160 करोड़ रु कैश 

 

एसकेजी ग्रुप की कंपनी मदुरई से तिरुमंगलम के बीच फोर लेन सड़क बना रही है। इस छापे में कंपनी के चेन्नई में 17, अरुप्पुकोट्टाई में 4 और कोटपाडी में 1 बिल्डिंग मिलाकर कुल 22 जगहों पर छापे मारे हैं। ये कैश ट्रैवल बैग में भरकर पार्किंग में खड़ी कारों में रखे गए थे। इनकम टैक्स डिपार्टमेंट को इसकी सूचना मिली थी जिसके बाद इनकम टैक्स चोरी के संदे पर छापेमारी की गई। इस छापेमारी में 100 किलो सोना और 160 करोड़ रुपए का कैश बरामद किया है। इससे पहले नोटबंदी से पहले दिसंबर 2016 में भी चेन्नई के इनकम टैक्स डिपार्टमेंट ने छापे में 106 करोड़ कैश और 123 किलो सोना बरामद किया था।

 

आगे पढ़ें - नोटबंदी के बाद की दूसरी रेड

 

ये भी पढ़ें - MNCs की नौकरी छोड़ 4 दोस्तों ने शुरू किया बिजनेस, खड़ी कर दी 30 करोड़ की कंपनी

 

 

2.बंगलुरु में जब्त किए थे नए नोट

बरामद – 5.7 करोड़ रु कैश

नोटबंदी के बाद इनकम टैक्स डिपार्टमेंट ने  बंगलुरु के दो इंजीनियर और 2 कॉन्ट्रेक्टर के घर से 5.7 करोड़ रुपए का कैश निकाला था। ये सभी नोट नए करेंसी नोट थे और इसके अलावा 90 लाख रुपए के नए नोट पाए गए थे। ये नोटबंद के बाद की सबसे बड़ी रेड थी। इसी रेड में 7 किलो सोना और 9 किलो की ज्वैलरी मिली थी। ये सभी पब्लिक वर्क्स डिपार्टमेंट के इंजीनियर के घर मिली थी।

 

 

3. मनी चेंजर्स के यहां ईडी की रेड

बरामद – 1 करोड़ रु कैश

नोटबंदी के बाद ईडी ने देश भर के मनी चेंजर्स के यहां रेड मारी थीं, जिनमें 1 करोड़ रुपए के पुराने नोट जब्त किए गए थे। इसके अलावा 50 लाख रुपए की फॉरेन करेंसी जब्त की गई थी। ये मनी चेंजर ब्लैक मनी के पुराने नोट ले रहे थे और उन्हें फॉरेन करेंसी में कन्वर्ट कर रहे थे। इसके बदले वह हैवी कमीशन चार्ज कर रहे थे।

 

आगे पढ़ें - दूसरी बड़ी रेड

 

4.सीबीआई ने की थी हैदराबाद के पोस्ट ऑफिस में रेड

बरामद – 40 लाख रु कैश

सीबीआई के अधिकारियों ने नोटबंदी के बाद हैदराबाद के आठ पोस्ट ऑफिस में छापे मारे थे। तब हिमायतनगर पोस्ट ऑफिस से 40 लाख रुपए का कैश मिला था। वहां काफी संख्या में पुराने नोट जब्त किए थे। इसमें पोस्ट के अधिकारी भी शामिल थे जिनके खिलाफ शिकायत दर्ज की गई थी।

 

 

5.झारखंड पुलिस ने जब्त किए 93 लाख कैश

बरामद – 93 लाख रु कैश

झारखंड पुलिस ने डुमका हेड पोस्ट ऑफिस से 93 लाख रुपए कैश जब्ति किए थे। पुलिस को खबर मिली थी कि 1 करोड़ रुपए के पुराने नोट वहां जमा किए गए है। पुलिस ने 3 अलग-अलग जगहों पर रेड मारी और 45 लाख रुपए के नए नोट जब्त किए।

 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट