विज्ञापन
Home » Economy » PolicyIndians uses these many chinese products daily

अनजाने में आप भी इन चीनी सामानों का करते हैं इस्तेमाल, यहां देखिए पूरी लिस्ट

सरकार चीनी उत्पादों पर ड्यूटी को बढ़ाने का फैसला लेती है तो इसका असर भारतीयों पर पड़ेगा

Indians uses these many chinese products daily

नई दिल्ली। चीन ने बुधवार देर रात चौथी बार वीटो का इस्तेमाल कर मसूद अजहर को संरक्षण दे दिया। संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद की 1267 प्रतिबंध समिति के समक्ष मसूद को वैश्विक आतंकी घोषित करने के लिए फ्रांस,ब्रिटेन और अमेरिका ने 27 फरवरी को प्रस्ताव पेश किया था। इसके बाद समिति ने सदस्य देशों को आपत्ति दर्ज करने के लिए 10 दिनों का समय दिया था। यह मियाद भारतीय समयानुसार बुधवार देर रात साढ़े बारह बजे समाप्त हो रही थी लेकिन चीन ने मियाद खत्म होने से ऐन कुछ घंटे पहले प्रस्ताव पर तकनीकी के आधार पर अड़ंगा लगा दिया जबकि प्राय सभी देश मसूद पर प्रतिबंध के पक्ष में थे। अमेरिका ने साफ और कड़े शब्दों में कहा, ''एक तरफ चीन दक्षिण एशिया में शांति की बात करता है और दूसरी ओर मसूद को बचाता है, ऐसा कर चीन खुद ही आतंकवाद के सफाए में बाधा बन रहा है। चीन को पाकिस्तान या किसी देश की धरती पर आतंकवाद को पलने नहीं देना चाहिए। अमेरिका ने चेतावनी देते हुए कहा कि चीन अगर मसूद पर कार्रवाई में बाधा बनता रहा तो सुरक्षा परिषद में उसके खिलाफ कार्रवाई की जा सकती है।'' 

भारत में इस्तेमाल की जाने वाली 80 फीसदी चीजें चीनी


चीन के इस कदम से उम्मीद की जा रही है भारत कुछ ठोस कदम  उठा सकता है लेकिन हम आपको बता दें कि भारत से चीन का सालाना कारोबार लगभग 55 अरब डॉलर का है। भारत में इस्तेमाल की जानी वाली बहुत सारी चीजें चीन से आयात की जाती हैं। सोशल मीडिया पर आज चीनी वस्तुओं के बहिष्कार का अभियान चलाया जा रहा है। लेकिन अगर चीन के उत्पादों पर रोक लगा दी जाए तो भारत में लोगों को काफी समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है। भारत में इस्तेमाल की जाने वाली 80 फीसदी चीजें चीन से आती है। तो यदि आपको लगता है कि चीन के इस कदम से भारत वहां से आने वाले सामान पर 200 प्रतिशत ड्यूटी लगा सकता है तो ऐसा नहीं है।  अगर सरकार चीनी उत्पादों पर ड्यूटी को बढ़ाने का फैसला भी लेती है, तो इसका असर सबसे ज्यादा आम भारतीयों पर ही पड़ेगा। 

चीन से ये सब चीजें आयात करता है भारत


चीन से भारत आयात की जाने वाले सामान में यह शामिल हैं। मोबाइल फोन, लैपटॉप, डेस्कटॉप, स्टेशनरी का सामान, बैटरी, बच्चों के खिलौने, फुटपाथ पर बिकने वाला सामान, गुब्बारे, चाकू और ब्लेड, कैल्कुलेटर, चिप्स का पैकेट बनाने वाली मशीन, छाता, रेन कोट, प्लास्टिक से बने सामान, टीवी, फ्रिज, एसी आदि, वॉशिंग मशीन, पंखे, कार में प्रयोग होने वाले कल-पुर्जे, खेल उत्पाद, किचन में प्रयोग होने वाला सामान, मच्छर मारने वाला रैकेट, दूरबीन, मोबाइल एसेसरीज, हैवी ड्यूटी मशीनरी, केमिकल्स, लौह अयस्क व स्टील, खाद , चश्मे का फ्रेम व लेंस, बाल्टी और मग, फर्नीचर (सोफा, बेड, डाइनिंग टेबल)

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
विज्ञापन
विज्ञापन