बिज़नेस न्यूज़ » Economy » Policyबिजनेस एक्टिविटी में सुधार, 51.4 के स्तर पर सर्विस PMI, जॉब क्रिएशन ग्रोथ का मिला फायदा

बिजनेस एक्टिविटी में सुधार, 51.4 के स्तर पर सर्विस PMI, जॉब क्रिएशन ग्रोथ का मिला फायदा

भारत के सर्विस सेक्‍टर में बेहतरी आना अप्रैल में भी जारी रहा।

1 of

नई दिल्‍ली. भारत के सर्विस सेक्‍टर में सुधार अप्रैल में भी जारी रहा। अप्रैल में निक्‍केई इंडिया सर्विसेज पर्चेजिंग मैनेजर्स इंडेक्‍स (PMI) 51.4 पर पहुंच गया जो मार्च में 50.3 पर था। इस तेजी की प्रमुख वजह बिजनेस एक्टिविटी बढ़ना और जॉब क्रिएशन में पिछले सात सालों की सबसे ज्‍यादा तेजी दर्ज किया जाना रहा। नए ऑर्डर में बढ़ोत्‍तरी और महंगाई के मोर्चे पर दबाव घटने से भी डिमांड सुधरने में मदद मिली। 

 

पूरी इकोनॉमी में महंगाई रही कम 

सर्वे रिपोर्ट के मुताबिक, भारत के सर्विस सेक्‍टर की यह ग्रोथ अप्रैल में भारतीय सर्विस कंपनियों के आउटपुट में आई तेजी दर्शाती है। रिपोर्ट की लेखिका और आईएचएस मार्किट में इकोनॉमिस्‍ट आश्‍ना डोढिया ने कहा कि पूरी भारतीय इकोनॉमी में भी महंगाई के मोर्च पर राहत मिली है। लागत और प्रोडक्टिविटी के मोर्चे पर इस बार क्रमश: सितंबर 2017 और जून 2017 के बाद से सबसे ज्‍यादा राहत रही। फरवरी में आई अस्‍थायी गिरावट के बाद से सर्विस इकोनॉमी में लगातार रिकवरी हो रही है। 

 

नए ऑर्डर्स में लगातार छठे माह इजाफा 

सर्विस सेक्‍टर का पिछले माह के डाटा ने ऑर्डर्स में बहुत ज्‍यादा बढ़ोत्‍तरी दर्शायी थी। रिपोर्ट में कहा गया कि भारतीय मैन्‍युफैक्‍चरर्स को मिले नए ऑर्डर्स में अप्रैल माह में लगातार छठे माह इजाफा दर्ज किया गया है। ग्रोथ रेट में तेजी आई है और रिपोर्ट्स हैं कि मार्केट डिमांड मजबूत हो रही है। 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट