Home » Economy » PolicyLeh coaches like aircraft

​चीन के बॉर्डर पर पहुंचेगी ट्रेन, हवाई जहाज की तरह होंगे कोच

ये होगा दुनिया का सबसे ऊंचा रेल ट्रैक, खर्च होंगे 83360 करोड़ रुपए

1 of

नई दिल्ली. दुनिया का सबसे ऊंचा रेल ट्रैक लेह लद्दाख के चीनी बॉर्डर इलाके से होकर गुजरेगा। इस ट्रैक पर चलने वाली ट्रेन के कोच को हवाई जहाज के केबिन की तरह डिजाइन किया जाएगा। इससे समुद्र तल से 5360 फीट की ऊंचाई पर सफर करने में ऑक्सीजन की कमी महसूस नहीं होगी, क्योंकि इतनी ऊंचाई पर हवा का दबाव कम हो जाता है। इसकी वजह से ऑक्सीजन के कण आपस में बिखरने लगते हैं और इससे सांस लेने में दिक्कत होती है। 

 

पहली बार होगा प्रेशराइज कोच का इस्तेमाल

रेलवे इस 465 किमी. लंबी लाइन को बनाने में 83,360 करोड़ रुपए खर्च करेगा। देश में पहली बार इस तरह के प्रेशराइज कोच का इस्तेमाल होगा। इस कोच को ऐसे डिजाइन किया जाता है, जो कम ऑक्सीजन की मात्रा को दुरुस्त रख सकें। नॉर्दन रेलवे के चीफ इंजीनियर डी आर गुप्ता के मुताबिक इस तकनीक का प्रयोग एयरक्राफ्ट के केबिन बनाने में किया जाता है। भारतीय रेलवे ऐसे कोच बनाने को लेकर ‌‌ ‌Bombardier Inc कंपनी से बातचीत कर सकता है। इस कंपनी ने तिब्बत रीजन में चीनी रेलवे के कोच को डिजाइन किया है, साथ ही ये कंपनी छोटे प्लने भी बनाती है। 

 

आगे पढ़ें- 

भारत में हो सकता है कोच का निर्माण 

गुप्ता के मुताबिक तिब्बत की ट्रेनों में ऑक्सीजन के स्तर को बनाए रखने के लिए दो तरीके अपनाएं जाते हैं। पहले हाई एल्टीट्यूड पर ऑक्सीजन पोर्ट एक्यूपमेंट को ऑन कर दिया जाता है और इसे हर एक यात्री को यूज करने के लिए दिया जाता है, जो कि स्टैडर्ड ऑक्सीजन के मानक को पूरा करता है। हालांकि अभी ये तय नहीं हुआ है कि इन कोच का निर्माण भारत में होगा या फिर भारत के बाहर। 

 

आगे पढ़ें

 

देश के कई अहम शहर होंगे कनेक्ट
इंटीग्रेटेड कोच फैक्ट्री के सूत्रों के मुताबिक उनके यहां अहमदाबाद-मुंबई बुलेट ट्रेन के अलावा बिलासपुर-मनाली-लेह लाइन के कोच भी बनाए जा सकते हैं। इस रेल लाइन से बिलासपुर, लेह जुड़ जाएंगे। इससे सुंदरनगर, मंडी, मनाली, केलांग, दार्चा, हिमाचल प्रदेश और जम्मू कश्मीर कनेक्ट हो जाएंगे। इस ट्रैक के पहले चरण के सर्वे के मुताबिक इस प्रोजेक्ट में 74 टनल, 124 बड़े ब्रिज और 396 छोटे ब्रिज बनाए जाएंगे। 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट