बिज़नेस न्यूज़ » Economy » Policy2018 में ब्रिटेन और फ्रांस को पछाड़ देगा भारत, बनेगा दुनिया की 5वीं बड़ी इकोनॉमी

2018 में ब्रिटेन और फ्रांस को पछाड़ देगा भारत, बनेगा दुनिया की 5वीं बड़ी इकोनॉमी

नए साल में भारतीय इकोनॉमी बड़ी छलांग लगा सकती है।

India to overtake UK and France to become fifth largest economy in 2018

नई दिल्‍ली। नए साल में भारतीय इकोनॉमी बड़ी छलांग लगा सकती है। दरअसल, एक रिपोर्ट में दावा किया गया है कि भारत डॉलर टर्म्स में ब्रिटेन और फ्रांस को पीछे छोड़कर अगले साल दुनिया की पांचवीं सबसे बड़ी इकोनॉमी हो जाएगा। भारत का दुनिया की पांच बड़ी इकोनॉमी में शामिल होना दुनिया में एशिया के बढ़ते दबदबे को भी दिखाता है। इस रिपोर्ट के मुताबिक, अगले 15 साल में ग्लोबल इकोनॉमी में एशियाई देश ही ज्यादा होंगे।


- ‘सेंटर फॉर इकोनॉमिक्स एंड बिजनेस रिसर्च’ यानी Cebr ने 2018 के लिए यह रिपोर्ट जारी की है। इसमें कहा गया है कि नए साल में ग्लोबल इकोनॉमी की रफ्तार तेज होगी और इसकी वजह सस्ती ऊर्जा और टेक्नोलॉजी होंगे। 
- रिपोर्ट में एशियाई देशों का जिक्र खास तौर पर किया गया है। रिपोर्ट के मुताबिक, अगले 15 साल के दौरान ग्लोबल इकोनॉमी में एशियाई देशों का प्रभाव होगा और टॉप 5 इकोनॉमी में भारत की एंट्री को इसी लिहाज से देखा जाना चाहिए।

 

ब्रिटेन और फ्रांस से आगे भारत 


- Cebr के डिप्टी चेयरमैन डगलस मैक्विलियम्स ने कहा- टेम्पररी दिक्कतों के बावजूद भारत इस वक्त फ्रांस और ब्रिटेन के साथ है। 2018 में डॉलर के लिहाज से भारत इन दोनों देशों को पीछे छोड़कर दुनिया की पांचवी सबसे बड़ी इकोनॉमी बन जाएगा। 
- मैक्विलियम्स ने कहा- नोटबंदी और जीएसटी की वजह से इंडियन इकोनॉमिक ग्रोथ कुछ कम हुई। रिपोर्ट में कहा गया है कि चीन 2032 तक अमेरिका को पीछे छोड़कर दुनिया की नंबर वन इकोनॉमी बन सकता है। 
- रिपोर्ट में कहा गया है कि यूएस प्रेसिडेंट का प्रभाव ट्रेड सेक्टर में कम नजर आया है। इसके बावजूद अमेरिका ग्लोबल इकोनॉमी में टॉप पर बना रहेगा। ब्रिटेन फ्रांस को पीछे छोड़ देगा।

 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट