बिज़नेस न्यूज़ » Economy » Policyभारत में 7-8% से ज्‍यादा की ग्रोथ हासिल करने की क्षमता: जेटली

भारत में 7-8% से ज्‍यादा की ग्रोथ हासिल करने की क्षमता: जेटली

जेटली ने कहा है कि भारत की इकोनॉमी में 7-8 फीसदी से ज्‍यादा की ग्रोथ रेट हासिल करने की क्षमता है।

1 of

नई दिल्‍ली. वित्‍त मंत्री अरुण जेटली ने कहा है कि भारत की इकोनॉमी में 7-8 फीसदी से ज्‍यादा की ग्रोथ रेट हासिल करने की क्षमता है। यह स्थिति यहां हुए नीतिगत बदलावों के चलते बनी है। बेहतर ग्‍लोबल हालातों ने भी भारत को सपोर्ट किया है। इंडिया-कोरिया बिजनेस समिट में मंगलवार को वित्‍त मंत्री जेटली ने कहा कि अगले 10 से 20 साल तक भारत दुनिया में सबसे तेजी से बढ़ती अर्थव्‍यवस्‍थाओं में शामिल रहेगा। 

 

 

जेटली ने कहा कि पिछले कुछ सालों में भारत ने विपरित ग्‍लोबल हालातों के बावजूद यह साबित किया उसकी क्षमता क्‍या है। जरूरत पड़ने पर सख्‍त फैसले लेने और उसके बाद भी हाई ग्रोथ की पेस को बनाए रखने में सफल रहा है। राजनीतिक स्‍वीकार्यता के साथ देश अपने आर्थिक फैसले लेने में सक्षम है। भारत में लोग रिफॉर्म और तेजी से आगे बढ़ना चाहते हैं। 

 

7-8% की ग्रोथ नॉर्मल

जेटली के अनुसार, भारत में अधिकांश लोग मानते हैं कि भारत 7-8 फीसदी की ग्रोथ हासिल कर लेगा, जोकि देश के लिए नॉर्मल है। लेकिन भारत की वास्‍तविक क्षमता इससे ज्‍यादा है। पिछले कुछ साल में भारतीय अर्थव्‍यवस्‍था बहुत ओपन हुई है। वह दुनिया से पहले से ज्‍यादा इंटीग्रेट हुई है। कई सेक्‍टर्स में इन्‍वेस्‍टमेंट बढ़ा है। निवेश की प्रक्रिया पहले से आसान हुई है। 

 

भारत में बिजनेस करना हुआ आसान

वित्‍त मंत्री अरुण जेटली ने कहा कि सरकार के फैसले से भारत में कारोबार करना आसान हुआ है। कारोबार को लेकर कई तरह की दिक्‍कतें दूर हुई हैं। सरकार एकसमान टैक्‍स स्‍ट्रक्‍चर लाने में सफल रही है। इंटरनेशनल इन्‍वेस्‍टर्स के लिए टैक्‍स स्‍ट्रक्‍चर पहले से सरल किया। वहीं, इनडायरेक्‍ट टैक्‍स स्‍ट्रक्‍चर निवेशकों के लिहाज से काफी बेहतर हुआ है। 

 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट