विज्ञापन
Home » Economy » Policyincome tax raid in graveyard

कब्रिस्तान में IT विभाग की रेड, कब्र खोदकर निकाला 433 करोड़ रुपए का खजाना

सीसीटीवी फुटेज खंगालने पर आयकर विभाग की टीम को कब्रिस्तान का सुराग मिला

income tax raid in graveyard

income tax raid in graveyard  बीते कुछ सालों से देश  में आयकर विभाग काफी सक्रिय हो गया है। ऐसे में बड़े-बड़े कारोबारी आईटी की रेड से बचने के लिए और अपना काला धन छुपाने के लिए अलग-अलग पैंतरे आज़मा रहे हैं। हाल ही में आयकर विभाग के छापे से बचने के लिए कारोबारियों ने कब्रिस्तान में अपना सारा खजाना छुपा रखा था। लेकिन आयकर विभाग ने वहां पर भी छापा मारकर सारा खज़ाना जब्त कर लिया। यह मामला चेन्नई का है जहां सरवना स्टोर, जी सक्वॉयर और लोटस ग्रुप के मालिकों ने आयकर विभाग से बचने के लिए अपना सारी काली कमाई नजदीक के कब्रिस्तान में छुपाया हुआ था। 

नई दिल्ली। बीते कुछ सालों से देश  में आयकर विभाग काफी सक्रिय हो गया है। ऐसे में बड़े-बड़े कारोबारी आईटी की रेड से बचने के लिए और अपना काला धन छुपाने के लिए अलग-अलग पैंतरे आज़मा रहे हैं। हाल ही में आयकर विभाग के छापे से बचने के लिए कारोबारियों ने कब्रिस्तान में अपना सारा खजाना छुपा रखा था। लेकिन आयकर विभाग ने वहां पर भी छापा मारकर सारा खज़ाना जब्त कर लिया। यह मामला चेन्नई का है जहां सरवना स्टोर, जी सक्वॉयर और लोटस ग्रुप के मालिकों ने आयकर विभाग से बचने के लिए अपना सारी काली कमाई नजदीक के कब्रिस्तान में छुपाया हुआ था। 

 

 9 दिन खुदाई करने के बाद आयकर विभाग ने कुल 433 करोड़ रुपए का खजाना पकड़ा


आयकर विभाग को कब्रिस्तान में खजाना छुपे होने की भनक लगी। 9 दिन खुदाई करने के बाद आयकर विभाग ने कुल 433 करोड़ रुपए का खजाना पकड़ा जिसमें 12.53 किलो सोना, 25 करोड़ की नकदी और 626 कैरेट के हीरे शामिल हैं। आयकर विभाग को खबर मिली थी कि सरवना स्टोर, लोटस ग्रुप और जी स्कॉवयर के मालिकों ने नकदी के जरिए चेन्नई में 180 करोड़ की प्रॉपर्टी खरीदी है। वे इस डील को छुपाकर टैक्स की हेराफेरी कर रहे हैं। ये खबर इतनी पक्की थी कि आयकर विभाग ने इन कंपनियों के चेन्नई और कोयंबटूर में 72 ठिकानों पर छापा मारने के लिए कई टीमें तैयार की। 

 

सीसीटीवी फुटेज खंगालने पर आयकर विभाग की टीम को कब्रिस्तान का सुराग मिला

 

हालांकि इस छापे में शुरुआत में कुछ भी नहीं मिला। बाद में मुखबिरों को सक्रिय किया गया। सीसीटीवी फुटेज खंगालने पर आयकर विभाग की टीम को कब्रिस्तान का सुराग मिला। सैकड़ो कब्रों के बीच एक एसयूवी के ड्राईवर की निशानदेही पर एक कब्र को खोदा गया तो उसके नीचे से 433 करोड़ रुपये का खजाना दबा हुआ मिला। बताया जा रहा है कि छापा पड़ने की भनक लगने के बाद आरोपियों ने अपने अवैध धन और सोना-हीरा को 28 जनवरी को कब्रिस्तान में लाकर छिपा दिया था।

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
विज्ञापन
विज्ञापन
Don't Miss