विज्ञापन
Home » Economy » PolicyIf you are away from home due to the job, you can do so in the Lok Sabha election, vote, process

आप नौकरी के कारण घर से हैं बाहर तो लोकसभा चुनाव में ऐसे कर सकते हैं मतदान, जानिए प्रक्रिया

केंद्रीय कर्मचारियों के लिए मतदान की विशेष व्यवस्था की जाती है

1 of

नई दिल्ली। Lok Sabha Election 2019 :  लोकसभा चुनावों की तारीख नजदीक है। सभी राजनीतिक दल अपनी तैयारियों में लग चुके हैं। पार्टी अपनी प्रत्याशियों की लिस्ट जारी कर रही है। देश भर में करीब 90 करोड़ वोटर्स अगली सरकार के चयन में अपने मताधिकार का प्रयोग करेंगे पहली बार वोट डालने वाले वोटर्स की संख्या करीब 1.5 करोड़ होगी। वहीं कुछ लोग नौकरी के कारण बाहर रहते हैं इस वजह से वह अपने बूथ पर जाकर वोट नहीं डाल पाते हैं। ऐसे लोगों के लिए खास इंतजाम किया जाता है।

 केंद्रीय कर्मचारियों के लिए मतदान की विशेष व्यवस्था की जाती है

चुनाव आयोग की वेबसाइट के मुताबिक सेना, सीआरपीएफ, बीएसएफस असम राइफल्स, आईटीबीपी, जीआरईएफ, सीआईएसएफ के अलावा ऐसे सभी केंद्रीय कर्मचारियों के लिए मतदान की विशेष व्यवस्था की जाती है जो अपने होम स्टेट से बाहर नौकरी कर रहे हैं इन्हें Service Voter कहते हैं


 

जानिए क्या है प्रोसेज : 

 

Service Voter के लिए एनरोल

  - चुनाव आयोग की वेबसाइट https://eci.gov.in/ पर जाएं।

- ‘Menu’ पर क्लिक करें।

- ‘ Service Voter & Overseas Voter’ पर क्लिक करें।

-  यहां पर ‘How to enroll as a Service Voter’ पर क्लिक करें।

-  नीचे फॉर्म डाउनलोड का ऑप्शन आएगा. आप जिस श्रेणी में आते हों, उस श्रेणी के फॉर्म भरकर रिकॉर्ड ऑफिस या नोडल ऑफिसर को दे दें।

-  यहां यह भी ध्यान रखें कि अपने अलावा सिर्फ अपनी पत्नी या पति का ही सर्विस वोटर के तौर पर एनरोलमेंट कराया जा सकेगा. बच्चों का सर्विस वोटर के तौर पर एनरोलमेंट नहीं कराया जा सकता।

 

 

ऐसे करें वोटिंग

 

 

- जब चुनावों की घोषणा होती है तो आपके क्षेत्र के रिटर्निंग ऑफिसर आपको पोस्टल बैलेट भेजेंगे।

- इसमें जिस कैंडिडेट को वोट करना, उसके नाम के सामने स्पष्ट तरीके से निशान लगा दें. अपना सिग्नेचर, कोई शब्द या नियमों से अलग कोई निशान बनाने पर वोट खारिज हो जाएगा।

- निशान लगाने के बाद बैलट पेपर के साथ आए विशेष छोटे कवर में इसे रख कर बंद कर दें, इस कवर पर ‘A’ लिखा होता है।

-  कमांडिंग ऑफिसर द्वारा नियुक्त किए गए ऑफिसर के सामने एक डिक्लेरेशन फॉर्म 13ए पर साइन करें, यह फॉर्म भी बैलट पेपर के साथ भेजा जाता है।

- ऑफिसर आपके हस्ताक्षर को प्रमाणित कर डिक्लेरेशन फॉर्म आपको वापस लौटा देगा. किसी भी परिस्थिति में अपना बैलट पेपर अटेस्टिंग ऑफिसर को न दिखाएं।

- डिक्लेरेशन फॉर्म और ‘A’ लिखे हुए छोटे कवर को एक बड़े कवर में रखे दें, इस बड़े कवर पर ‘B’ लिखा होता है और यह भी बैलट पेपर के साथ आता है. बड़े कवर पर आपके हस्ताक्षर भी होने चाहिए।

- इसे रिटर्निंग ऑफिसर को डाक के जरिए या जिसने बैलट पेपर आपके पास लेकर आया है, उसके साथ भेज दें।

- इसे भेजने के लिए किसी पोस्टेज स्टांप की जरूरत नहीं है. हालांकि यह सुनिश्चित कर लें कि यह स्पेशिफाइड डेट के पहले तक रिटर्निंग ऑफिसर के पास पहुंच जाए।

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
विज्ञापन
विज्ञापन
Don't Miss