विज्ञापन
Home » Economy » PolicyIAF to equip Su-30MKI with Israeli Spice-2000 bombs used in Balakot air strikes

पाकिस्तान की कमर तोड़ने के लिए भारत का बड़ा कदम, सुखोई-30MKI को इजराइल के स्पाइस-2000 बमों से लैस करने की तैयारी

भारतीय वायुसेना (Indian AirForce) के मिराज-2000 विमान स्पाइस-2000 बमों से लैस हैं

IAF to equip Su-30MKI with Israeli Spice-2000 bombs used in Balakot air strikes

IAF to equip Su-30MKI with Israeli Spice-2000 bombs used in Balakot air strikes अपने लड़ाकू विमानों को और अधिक शक्तिशाली बनाने के लिए भारतीय वायुसेना सुखोई-30 एमकेआइ को इजराइल की स्पाइस -2000 लेजर निर्देशित बमों से लैस करने की कोशिश में है। इस बात की जानकारी आधिकारिक सूत्रों ने दी है।  अभी भारतीय वायुसेना (Indian AirForce) के मिराज-2000 विमान स्पाइस-2000 बमों से लैस हैं और इन विमानों का हाल ही में पाकिस्तान में आतंकवादी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के बड़े आतंकी शिविर पर हमला करने के लिए इस्तेमाल किया गया था। 

नई दिल्ली। अपने लड़ाकू विमानों को और अधिक शक्तिशाली बनाने के लिए भारतीय वायुसेना सुखोई-30 एमकेआइ को इजराइल की स्पाइस -2000 लेजर निर्देशित बमों से लैस करने की कोशिश में है। इस बात की जानकारी आधिकारिक सूत्रों ने दी है।  अभी भारतीय वायुसेना (Indian AirForce) के मिराज-2000 विमान स्पाइस-2000 बमों से लैस हैं और इन विमानों का हाल ही में पाकिस्तान में आतंकवादी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के बड़े आतंकी शिविर पर हमला करने के लिए इस्तेमाल किया गया था। 

 

सुखोई-30एमकेआइ को इजरायल के स्पाइस-2000 बमों से लैस करने की तैयारी


आधिकारिक सूत्रों ने बताया, 'भारतीय वायुसेना अपने लड़ाकू विमानों को और शक्तिशाली बनाने के लिए सुखोई-30एमकेआइ को इजरायल के स्पाइस-2000 बमों से लैस करने की प्रक्रिया में है।' यह कदम भारत और पाकिस्तान के बीच बढ़े तनाव के बाद सामने आया है।

 

बालाकोट में भारत ने पाकिस्तानी वायुसेना के एफ 16 को मार गिराया था


गौरतलब है कि बालाकोट (पाकिस्तान) में जैश ए मोहम्मद के आतंकवादी प्रशिक्षण केंद्र पर 26 फरवरी को भारतीय वायुसेना के बम गिराने के एक दिन बाद जवाबी कार्रवाई करते हुए पाकिस्तानी वायुसेना ने कश्मीर में सैन्य प्रतिष्ठानों पर हमले की नाकाम कोशिश की थी। उसी दौरान यह हवाई झड़प हुई थी। मंत्रालय ने इस हवाई झड़प का ब्यौरा देते हुए कहा कि पाकिस्तानी लड़ाकू विमानों को रोकने के लिए तैनात सभी सुखोई - 30 लड़ाकू विमान सुरक्षित रूप से (अपने एयरबेस पर) लौट आए। उल्लेखनीय है कि पाकिस्तान ने भारतीय वायुसेना के एक मिग 21 लड़ाकू विमान को गिराया था जबकि भारत ने पाकिस्तानी वायुसेना के एफ 16 को मार गिराया था।

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
विज्ञापन
विज्ञापन