विज्ञापन
Home » Economy » PolicyGovernment Bank is going to hire one lakh people

सरकारी बैंक देंगे एक लाख लोगों को नौकरी, इन पदों पर होगी हायरिंग

कई नए पोस्ट की जाएगी क्रिएट

1 of

नई दिल्ली। अगर आप सरकारी बैंकों में नौकरी करना चाहते हैं और बैंकिंग की तैयारी कर रहे हैं तो आपके लिए अच्छी खबर है। सरकारी बैंक अब कॉम्पिटिशन पर फोकस कर दे रहे हैं। सरकारी बैंक इस वित्त वर्ष तक एक लाख हायरिंग करने की योजना बना रहे हैं। यह पिछली साल के मुकाबले दोगुना हायरिंग होगी। स्टेट बैंक आॅफ इंडिया, सिंडिकेट  बैंक, बैंक आॅफ बड़ौदा, केनरा बैंक जैसे सरकारी बैंक आधुनिक बैंकों के हिसाब से बनने वाले रोल के मद्देनजर मार्च तक तकरीबन एक लाख लाेगों को हायर करने की प्रक्रिया शुरू हो चुकी हैं।

 

 

इन सभी लेवल पर की जा रही है रिक्रूट

   बैंक वेल्थ मैनेजमेंट,  एनालिटिक्स, स्ट्रैटेजी, डिजिटल, कस्टमर सर्विसेज जैसे स्पेशलाइज्ड रोल के लिए वैकेंसी है।

 

आगे पढ़ें :

 

20 फीसदी एंप्लाॅयज ही क्लर्क ग्रेड के हैं।

ईटी की खबर के मुताबिक,  पब्लिक सेक्टर बैंको में क्लर्क कम और अफसर अधिक है। इन बैंकाें में सिर्फ 20 फीसदी एंप्लाॅयज ही क्लर्क ग्रेड के हैं। एसबीआई बैंक की बात की जाए तो यहां 45 फीसदी एंप्लायज इस कैटेगरी के है। कारोबार काे बढ़ावा देेने के लिए पीएसयू कल्चर में बदलाव की जरूरत को उनके हायरिंग के तरीके से देखा जा सकता है। ये अब आधुनिक टेक्नोलाॅजी से लैस टैलेंट और प्राइवेट/मल्टीनेशनल बैंकों के कर्मचारियों को हायर करने पर फोकस कर रहे हैं।

 बैंकों रिक्रूटमेंट में बढ़ोतरी हुई है। सरकारी बैंक भी अब चीफ एथिक्स ऑफिसर, चीफ मार्केटिंग ऑफिसर, चीफ इनवेस्टमेंट ऑफिसर, चीफ लर्निंग ऑफिसर, हेड एनालिटिक्स, डिजिटल मार्केटिंग कैंपेनर जैसी पोस्ट क्रिएट कर रहे हैं और उसके लिए प्राइवेट बैंकों से टैंलेट हायर कर रहे हैं। इन पोस्ट के लिए सैलरी 50 लाख सालाना से शुरू हो रही है।

 

आगे पढ़ें :

 

 

 

एक अनुमान के मुताबिक,  इन बैंकों ने सीनियर लेवल को छोड़ क्लर्क, मैनेजमेंट ट्रेनी, प्रोब्रेशनरी आॅफिसर्स जैसे लेवल पर पिछले दो सालों में करीब 95,000 प्रोफेशनल्स को हायर किए हैं। 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
विज्ञापन
विज्ञापन