बिज़नेस न्यूज़ » Economy » Policyकाम पर लौटे सुप्रीम कोर्ट के चारों जज, अटॉर्नी जनरल ने कहा- सुलझ गया मामला

काम पर लौटे सुप्रीम कोर्ट के चारों जज, अटॉर्नी जनरल ने कहा- सुलझ गया मामला

इन जजों में जस्टिस जे चेलमेश्‍वर, जस्टिस रंजन गोगोई, जस्टिस मदन बी लोकर और जस्टिस कुरियन जोसेफ शामिल हैं।

1 of

नई दिल्‍ली. पिछले हफ्ते प्रेस कांफ्रेंस कर सुप्रीम कोर्ट के कामकाज पर सवाल उठाने वाले सुप्रीम कोर्ट के चार सीनियर जज सोमवार को वापस काम पर लौट आए। इन जजों में जस्टिस जे चेलमेश्‍वर, जस्टिस रंजन गोगोई, जस्टिस मदन बी लोकर और जस्टिस कुरियन जोसेफ शामिल हैं। चारों जजों ने आम रुटीन के हिसाब से काम किया। वहीं दूसरी ओर इस कांफ्रेंस के बाद उठे विवाद को लेकर अटॉर्नी जनरल ने कहा कि अब सभी मामले सुलझा लिए गए हैं और सब कुछ ठीक है। 

 

क्‍या है मामला 

सुप्रीम कोर्ट के चार सीनियर जजों ने शुक्रवार को जस्टिस चेलामेश्वर के घर पर प्रेस कांफ्रेंस की थी। भारत के इतिहास में पहली बार ऐसा हुआ, जब सुप्रीम कोर्ट के जज इस तरह मीडिया के समक्ष आए। जजों का कहना था कि इसमें कोई खुशी नहीं है कि हम ऐसा करने को मजबूर हुए, सुप्रीम कोर्ट एडमिनिस्ट्रेशन वो काम नहीं कर रही है जो उसे करना चाहिए। जस्टिस चेलमेश्‍वर ने कहा था कि हमने चीफ जस्टिस ऑफ इंडिया (सीजेआई) को यह समझाने की कोशिश की कि सबकुछ ठीक नहीं चल रहा है, इसलिए वह ठोस कदम उठाए लेकिन दुर्भाग्‍श्‍वश हमारी कोशिशें फेल हो गईं। हम चीफ जस्टिस से एक विशेष मांग के साथ मिले लेकिन उन्‍हें समझा नहीं सकें कि हम सही हैं। इसलिए हमारे पास राष्‍ट्र को इसकी जानकारी देने के अलावा कोई दूसरा विकल्‍प नहीं था, कि कृपया इस संस्‍था का ख्‍याल रखे। 

 

चीफ जस्टिस ने जताया था मामला सुलझाने का भरोसा 

रविवार को भारत के चीफ जस्टिस दीपक मिश्रा ने बार काउंसिल ऑफ इंडिया के 7 सदस्‍यीय प्रतिनिधिमंडल और सुप्रीम कोर्ट बार एसोसिएशन के प्रेसिडेंट विकास सिंह से मुलाकात की थी। जस्टिस मिश्रा ने उन्‍हें भरोसा दिलाया था कि इस मुद्दे को जल्‍द ही सुलझा लिया जाएगा और हालात ठीक हो जाएंगे। 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट