विज्ञापन
Home » Economy » PolicyFinance Ministry may sell part of SUUTI holding in Axis Bank, ITC

एक्सिस बैंक और ITC में अपनी हिस्सेदारी बेच सकती है सरकार, जल्द लेगी बड़ा फैसला

चालू वित्त वर्ष में विनिवेश से 80 हजार करोड़ जुटाने का है लक्ष्य

1 of

नई दिल्ली।  चालू वित्त वर्ष में विनिवेश के जरिए 80 हजार करोड़ रुपए का लक्ष्य पूरा करने के लिए केंद्र सरकार जल्द ही एक बड़ा फैसला ले सकती है। इसके तहत सरकार आने वाले दिनों में एक्सिस बैंक और ITC में अपनी हिस्सेदारी बेचने की घोषणा कर सकती है। सरकार ने स्पेसिफाइड अंडरटेकिंग ऑफ यूनिट ट्रस्ट्र ऑफ इंडिया (एसयूयूटीआई) के जरिए एक्सिस बैंक और ITC में शेयर खरीदे थे। 

 

आ सकता है ऑफर फॉर सेल
सरकार के एक्सिस बैंक 9.63 फीसदी, ITC में 7.97 फीसदी और एलएंडटी में 1.80 फीसदी शेयर हैं। वित्त मंत्रालय के एक अधिकारी के अनुसार, सरकार एक्सिस बैंक और ITC में अपनी हिस्सादारी बेचने पर विचार कर रही है। इसके लिए सरकार शेयर बाजार में बिक्री योजना (ऑफर फॉर सेल) ला सकती है। अधिकारी ने बताया कि सरकार एलएंडडी में एसयूयूटीआई के जरिए अपनी हिस्सेदारी बेचने के लिए कंपनी की ओर से शेयर पुनर्खरीद का इंतजार कर रही है। 

थोक में हिस्सेदारी बेचेगी सरकार


अधिकारी के अनुसार, सरकार ने एक्सिस बैंक और ITC में अपनी हिस्सेदारी को थोक में बेचने की योजना बनाई है। थोक हिस्सेदारी के तहत कंपनी के कुल शेयरों को कम से कम 0.5 फीसदी हिस्सा बेचना होता है। यह हिस्सेदारी खुले बाजार में एक ही विक्रेता की ओर से एक ही क्रेता को बेची जाती है। इस हिस्सेदारी के तहत कम से कम पांच करोड़ रुपए का लेनदेन होता है।

चालू वित्त वर्ष में 80,000 करोड़ रुपए जुटाने का लक्ष्य


केंद्र सरकार ने चालू वित्त वर्ष में विनिवेश के जरिए 80 हजार करोड़ रुपए जुटाने का लक्ष्य रखा है। इसी के तहत सरकार ने एक्सिस बैंक, ITC और एलएंडटी में अपनी हिस्सेदारी बेचने का फैसला लिया है। विभिन्न कंपनियों में अपनी हिस्सेदारी बेचकर सरकार अब तक 34 हजार करोड़ रुपए जुटा चुकी है।

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
विज्ञापन
विज्ञापन