विज्ञापन
Home » Economy » PolicyExpressway bus to Delhi from Meerut in just 50 minutes

रैपिड रेल नहीं एक्सप्रेस बसें पहुंचाएगी मेरठ से दिल्ली, सिर्फ 50 मिनट का लगेगा समय

केंद्र सरकार ने दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेस बस सर्विस पर काम शुरू कर दी है

1 of

नई दिल्ली। दिल्ली से मेरठ का सफर आसान करने के लिए रैपिड रेल का निमार्ण कार्य भले अटका हुआ है लेकिन अब एक्सप्रेस वे बसों से मेरठ-दिल्ली का सफर जरुर आसान हो जाएगा। इस रूट पर तेज गति के आवागमन की जरूरत को भांपते हुए केंद्र सरकार ने अब दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेस बस सर्विस को अमलीजामा पहनाने की कवायद शुरू कर दी है।  निर्माणाधीन दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेस-वे पर बस सर्विस से सिर्फ 50 मिनट में दिल्ली से मेरठ की दूरी तय हो सकेगी। केंद्र सरकार ने इस प्रोजेक्ट की लागत और उससे होने वाले फायदे को लेकर रेलवे, नीति आयोग और रोड ट्रांसपोर्ट मिनिस्ट्री से उनकी राय भी मांगी है। 

 

 

82 किलोमीटर लंबे निर्माणाधीन दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेस-वे होगा प्रदूषण रहित

 82 किलोमीटर लंबे निर्माणाधीन दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेस-वे को प्रदूषण रहित बनाने की योजना है। एक्सप्रेस बस सर्विस निश्चित दूरी के बीच चलाई जाती हैं। इसमें बीच-बीच में स्टॉपेज नहीं होते। हाईवे या एक्सप्रेस-वे पर इसके लिए अलग कॉरिडोर निर्धारित होते हैं। मेरठ और दिल्ली के बीच का सफर तय करने में अभी तीन से चार घंटे लग जाते हैं। एक्सप्रेस बस सर्विस से यह दूरी 50 मिनट में तय होगी।

 

चार साल का समय लगेगा 

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, रैपिड रेल प्रोजेक्ट को शुरू होने में कम से कम चार साल (2023) का समय लगेगा। एक्सप्रेस-वे का कार्य इस वर्ष पूरा होने की संभावना है। इस पर वित्त मंत्रलय ने रूट पर ट्रैफिक को देखते हुए कार्रवाई आरंभ की है। केंद्रीय भूतल परिवहन मंत्री नितिन गडकरी से एक्सप्रेस वे पर ऐसी बसें चलाने के लिए वार्ता हुई थी। 

 

 

 

 

बस अड्डे का काम अभी शुरू नहीं 

रैपिड रेल परियोजना के लिए दिल्ली सरकार की मंजूरी न मिलने से ही पीआइबी में प्रस्ताव अटका हुआ है। पीआइबी की मंजूरी के बाद कैबिनेट की मंजूरी के लिए दिल्ली-मेरठ रैपिड रेल का प्रस्ताव जाएगा। 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
विज्ञापन
विज्ञापन