Advertisement
Home » Economy » PolicyED claims Robert Vadra's London house was bought from a brokerage from Samsung

सैमसंग को कांट्रैक्ट दिलाने पर मिली रकम से खरीदा गया था रॉबर्ट वाड्रा का लंदन वाला घर, ED का दावा

गुजरात में ठेका दिलाने की एवज में दी गई थी रकम

1 of

नई दिल्ली। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के बहनोई रॉबर्ट वाड्रा पर प्रवर्तन निदेशालय (ED) का शिकंजा कसता जा रहा है। ED ने राबर्ट वाड्रा की लंदन स्थित बेनामी संपत्ति को खरीदने के लिए जुटाए गए धन का पता लगाने का दावा किया है। ED के वरिष्ठ हवाले से प्रकाशित दैनिक जागरण की एक रिपोर्ट के अनुसार, रॉबर्ट वाड्रा का लंदन में 12-ब्रायंस्टन स्क्वायर वाला घर सैमसंग इंजीनियरिंग से मिली दलाली की रकम से खरीदा गया था। 

 

इसलिए मिली थी दलाली
ED के वरिष्ठ अधिकारी के अनुसार, गुजरात के दाहेज में ओएनजीसी का एसईजेड बनाने के लिए सैमसंग इंजीनियरिंग को दिसंबर 2018 में ठेका मिला था। इसकी एवज में सैमसंग ने हथियार दलाल संजय भंडारी की कंपनी 13 जून 2009 को 49.9 लाख डॉलर दिए थे। तब की विनिमय दर के हिसाब से यह 23.50 करोड़ रुपए बनते थे। इसमें से संजय भंडारी ने 19 लाख पाउंड वोर्टेक्स नाम की कंपनी में ट्रांसफर किए थे। तब की विनिमय दर के हिसाब से यह रकम 15 करोड़ रुपए बनती थी। ED का दावा है कि इसी रकम से लंदन के 12 ब्रायंस्टन स्क्वायर वाली प्रॉपर्टी खरीदी गई है। 

वाड्रा की इजाजत के बाद हुई थी मरम्मत


ED ने दावा किया है कि 2010 में भंडारी के रिश्तेदार सुमित चड्ढ़ा ने एक ई-मेल का जरिए रॉबर्ट वाड्रा से इस प्रॉपर्टी की मरम्मत करने की इजाजत मांगी थी। इस पर वाड्रा ने मनोज अरोड़ा नाम के शख्स से पैसे का इंतजाम करने को कहा था। ED के मुताबिक इस संपत्ति की मरम्मत में करीब 45 लाख रुपए का खर्च आया था। 

सुबूत जुटाने में लगी ED


ED के वरिष्ठ अधिकारी के अनुसार, रॉबर्ट वाड्रा के लिए खरीदी गई संपत्ति के लिए धन एकत्र करने की पूरी चेन की जानकारी मिल गई है। बस इसके लिए सुबूत जुटाए जा रहे हैं। इसके लिए संजय भंडारी को सैमसंग इंजीनियरिंग से मिले भुगतान की दोबारा से जांच की जाएगी। 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
Advertisement