विज्ञापन
Home » Economy » PolicyPulwama Attack: Donate Money for Martyrs on Bharat Ke Veer App And Website

Pulwama Terrorist Attack: शहीदों को नमन, Bharat Ke Veer ऐप पर उनके परिवारों के लिए करें डोनेशन

यह पैसा सीधे शहीदों के परिवार के बैंक अकाउंट में जाएगा, 15 लाख रुपए तक कर सकते हैं डोनेट

Pulwama Attack: Donate Money for Martyrs on Bharat Ke Veer App And Website

Pulwama Attack: गुरुवार को जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में आतंकी हमले में सीआरपीएफ के 44 जवान शहीद हुए। कई जवान गंभीर रूप से जख्मी हैं और जिंदगी की लड़ाई लड़ रहे हैं। सारा देश शरीद होने वाले जवानों को अपनी श्रद्धांजिल दे रहा है। ऐसे में अगर आप भी उन्हें श्रद्धांजलि देना चाहते हैं तो आप उनके परिवारों के लिए डोनेशन दे सकते हैं। इसके लिए आप Bharat Ke Veer ऐप या bharatkeveer.gov.in वेबसाइट पर जा सकते हैं।

नई दिल्ली.

गुरुवार को जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में आतंकी हमले में सीआरपीएफ के 44 जवान शहीद हुए। कई जवान गंभीर रूप से जख्मी हैं और जिंदगी की लड़ाई लड़ रहे हैं। सारा देश शहीद जवानों को अपनी श्रद्धांजिल दे रहा है। ऐसे में अगर आप भी उन्हें नमन करना चाहते हैं तो आप उनके परिवारों के लिए डोनेशन दे सकते हैं। इसके लिए आप Bharat Ke Veer ऐप या bharatkeveer.gov.in वेबसाइट पर जा सकते हैं। आप एक शहीद के परिवार को 15 लाख रुपए तक डोनेट कर सकते हैं। 

 

2017 में लांच हुई थी वेबसाइट

गृह मंत्रालय ने 2017 में Bharat Ke Veer वेबसाइट और ऐप को लॉन्च किया था। इसके पीछे उद्देश्य यह था कि देश की जनता पैसे डोनेट करके जवानों के परिवारों की मदद कर सके। इसमें आप दो तरह से डोनेशन दे सकते हैं- किसी एक शहीद जवान के अकांउट में या भारत के वीर फंड में। इस वेबसाइट या ऐप में डोनेशन देकर आप सेंट्रल रिजर्व पुलिस फोर्स (CRPF), बॉर्डर सिक्योरिटी फोर्स (BSF), सेंट्रल इंडस्ट्रियल सिक्योरिटी फोर्स (CISF), इंडो-तिबत बॉर्डर पुलिस फोर्स (ITBPF), सशस्त्र सीमा बल, असम साइफल, नेशनल डिजास्टर रिस्पॉन्स फॉर्स और नेशनल सिक्योरिटी गार्ड्स (NSG) के शहीदों के परिवारों की मदद कर सकते हैं।

 

ऐसे करें डोनेशन

आप इस ऐप को अपने फोन में डाउनलोड कर सकते हैं या Bharat Ke Veer वेबसाइट के जरिए अपना योगदान दे सकते हैं। इस वेबसाइट पर किया गया डोनेशन सीधे-सीधे शहीद हुए सैनिकों के परिवार के बैंक अकाउंट में जाता है। वेबसाइट खोलते समय ध्यान दें कि उसके एड्रेस में gov.in है या नहीं। अगर यूआरएल में gov.in के अलावा कुछ दिखे तो इस साइट पर डोनेशन न दें। Bharat Ke Veer कोष में फरवरी तक 45.32 करोड़ रुपए रिसीव हुए हैं।

 

 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
विज्ञापन
विज्ञापन