विज्ञापन
Home » Economy » PolicyDelhi to build 'PG hostel' for cows

केजरीवाल सरकार का फैसला, अब गाय भी रहेगी 'पीजी हॉस्‍टल' में

इसके लिए दिल्‍ली के इन जगहों को चिह्नित किया गया है।

1 of

नई दिल्ली। उत्तर प्रदेश के बाद अब दिल्ली में भी गायों की सुरक्षा के लिए खास बंदोबस्त किए जाएंगे। दिल्ली सरकार ने दिल्ली के गायों की सुध लेने का फैसला किया है। मुख्‍यमंत्री अरविंद केजरीवाल की सरकार ऐसी गायों के लिए 'पीजी हॉस्‍टल' बनाएगी, जिनके मालिकों के पास उन्‍हें रखने के लिए जगह नहीं है। यह गौशाला के साथ-साथ 'ओल्‍ड ऐज होम' भी होगा, जहां बुजुर्ग गायों के साथ रहेंगे। 

 

इन सुविधाओं से लैस हाेगी यह गौशाला

गौशाला कम 'ओल्‍ड ऐज होम' अत्याधुनिक सुविधाओं से लैस होगा। यह गौशाला अपने आप में खास होगी। यहां अपने मवेशियों को रखने वाले मालिकों को इसके लिए भुगतान करना होगा। बताया जा रहा है कि इस तरह की योजना गुजरात में सफल हो चुकी है, जिसे ध्‍यान में रखते हुए दिल्‍ली सरकार ने यह दिशा में कदम उठाने का फैसला किया है। दिल्‍ली सरकार में मंत्री गोपाल राय ने इसका ऐलान बुधवार को किया। उन्‍होंने बताया कि इसके लिए दक्षिण-पश्चिम दिल्‍ली में गुमनहेरा गांव को चिह्नित किया गया है।

 

 

33 गौशालाएं बनाने की है योजना

 

गोपाल राय ने बताया कि सरकार की योजना पूरे शहर में ऐसी 33 गौशालाएं बनाने की है, जहां उन गायों को भी रखा जा सकेगा, जिन्‍हें उनके मालिक दूध नहीं देने या किसी भी तरह से अनुपयोगी हो जाने की स्थिति में लावारिस छोड़ देते हैं। सरकार की योजना अब शहर के हर वार्ड में मवेशियों के लिए एक अस्‍पताल बनाने की है।

 

 

चिप के जरिए पालतू जानवरों पर रख सकेंगे नजर

 

सरकार एक चिप के जरिये सभी पालतू जानवरों और मवेशियों पर नजर रखने की भी है। इससे जानवरों और मवेशियों के टीकाकरण के साथ-साथ उनके मालिकों के बारे में भी पता लगाने और सड़कों पर घूमने वाले लावारिस पशुओं की संख्‍या के बारे में जानकारी जुटाने में मदद मिलेगी।

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
विज्ञापन
विज्ञापन