विज्ञापन
Home » Economy » PolicyCongress release election manifesto for loksabha election 2019

अगले साल मार्च तक 22 लाख लोगों को मिलेंगी सरकारी नौकरियां, युवा को कारोबार शुरू करने के लिए किसी की इजाजत की जरूरत नहीं

कांग्रेस ने लोकसभा चुनाव के लिए जारी किया घोषणापत्र

1 of

नई दिल्ली। लोकसभा चुनावों के लिए कांग्रेस ने मंगलवार को अपना घोषणा पत्र जारी कर दिया। दिल्ली में कांग्रेस मुख्यालय में आयोजित कार्यक्रम में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी, यूपीए अध्यक्ष सोनिया गांधी, पूर्व प्रधानमंत्री राहुल गांधी समेत कई वरिष्ठ नेताओं ने यह घोषणा पत्र जारी किया। 

लोकलुभावन वादों की भरमार

कांग्रेस ने अपने घोषणा पत्र को "हम निभाएंगे" नाम दिया है। इस घोषणा पत्र में लोकलुभावन वादों का भरमार की गई है। घोषणा पत्र में कांग्रेस ने कहा है कि यदि चुनावों के बाद उसकी सरकार बनती है तो एक साल के भीतर देश में खाली पड़े करीब 22 लाख सरकारी पदों पर भर्तियां की जाएंगी। इस प्रकार एक साल में 22 लाख बेरोजगार युवाओं को नौकरी मिलेगी। इसके अलावा घोषणा पत्र में देश के 5 करोड़ गरीब परिवारों को हर साल 72 हजार रुपए देने का वादा किया गया है। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी इन दोनों बड़े वादों की बात पहले की कह चुके हैं। 

उन्होंने कहा युवा कारोबार शुरू करेंगे तो तीन साल तक किसी अनुमति की जरूरत नहीं होगी। मनरेगा में कार्य दिवसों की संख्या को 100 दिन से बढ़कर 150 दिन करेंगे।



किसानों के लिए बड़े ऐलान करते हुए गांधी ने कहा, 'किसानों के लिए अलग बजट होगा। किसान ईमानदार हैं । हमने निर्णय लिया है कि कर्ज अदायगी नहीं करने पर किसानों के खिलाफ फौजदारी अपराध का मामला दर्ज नहीं होगा, दीवानी अपराध का मामला होगा।' 
उन्होंने कहा कि शिक्षा के लिए बजट का छह फीसदी ख़र्च किया जाएगा और गरीब से गरीब व्यक्ति को उच्च गुणवत्ता वाली स्वास्थ्य सेवा सुनिश्चित की जाएगी।
 

 

महिलाओं को मिलेगा 33 फीसदी आरक्षण

 

कांग्रेस ने लोकसभा चुनाव 2019 में एक बार फिर महिला आरक्षण का दांव चला है। कांग्रेस ने अपने घोषणा पत्र में सरकार बनने पर महिलाओं को 33 फीसदी आरक्षण देने की बात कही है। इसके अलावा कांग्रेस ने सरकार बनने के बाद नीति आयोग को खत्म कर पुराना योजना आयोग बनाने, असली वस्तु एवं सेवाकर (GST) लागू करने, व्यवसाय या नया स्टार्टअप शुरू करने के लिए तीन साल तक किसी भी प्रकार से अनुमति की छूट, मनरेगा में 100 से बढ़ाकर 150 दिन काम, किसानों के लिए अलग बजट जारी करने जैसे कई लोकलुभावन वादे किए हैं। 

भाजपा ने अभी तक जारी नहीं किया घोषणा पत्र

 

देश में लोकसभा चुनावों की प्रक्रिया चल रही है। सत्तारूढ़ भाजपा और कांग्रेस दोनों ही पार्टियां मतदाताओं से कई प्रकार के वादे कर रही हैं। इस बीच कांग्रेस ने घोषणा पत्र जारी करके बढ़त हासिल कर ली है। अभी तक भाजपा ने अपना घोषणा पत्र जारी नहीं किया है। आपको बता दें कि घोषणा पत्र के जरिए राजनीतिक पार्टियां अपनी नीतियां बताती हैं। 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
विज्ञापन
विज्ञापन