Home » Economy » Policyदेश की 58.62% GDP पर भारतीय जनता पार्टी का कब्‍जा - BJP ruling states and their contribution in GDP of India

देश की 58.62% GDP पर BJP का कब्‍जा, 19 राज्‍यों में बनी सरकार

हिमाचल प्रदेश और गुजरात चुनावों में बीजेपी ने जीत दर्ज की है।

1 of

नई दिल्‍ली. हिमाचल प्रदेश और गुजरात चुनावों में बीजेपी ने जीत दर्ज की है। इस जीत के साथ ही देश के 19 राज्‍यों में बीजेपी या बीजेपी की गठबंधन वाली सरकार का कब्‍जा हो गया। इस जीत के राजनीतिक मायने तो हैं ही, साथ ही इकोनॉमी के मोर्चे पर भी गुजरात और हिमाचल में बीजेपी की जीत काफी मायने रखती है। इन दो राज्‍यों में जीत के साथ ही देश की लगभग 59 फीसदी जीडीपी बीजेपी या उसके गठबंधन वाली सरकार के कब्‍जे में आ चुकी है। 

 

कितनी है देश की GDP?

वर्तमान में भारत की GDP 156.59 लाख करोड़ रुपए है। जिन 19 राज्‍यों में बीजेपी की सरकार काबिज हो गई है, उनका देश की कुल GDP में लगभग 58.62 फीसदी का योगदान है। इनमें सबसे ज्‍यादा योगदान महाराष्‍ट्र का है। 

 

राज्‍य                   GDP में हिस्‍सेदारी
महाराष्‍ट्र 14.29%
उत्तर प्रदेश 7.43%
गुजरात 7.4%
आंध्र प्रदेश 4.46%
राजस्‍थान 4.78%
मध्‍य प्रदेश 3.82%
हरि‍याणा 3.71% 
छत्‍तीसगढ़ 1.85%
झारखंड 1.65%
असम 1.52%
उत्तराखंड 1.17%
जम्मू-कश्मीर 0.84%
गोवा 0.44%
मणिपुर 0.11%
हिमाचल प्रदेश  0.79%
बिहार 4.03%
अरुणाचल प्रदेश 0.12%
नगालैंड 0.11%
सिक्किम 0.10%
कुल  58.62%

 

स्रोत-मिनिस्ट्री ऑफ स्टैटिस्टिक्स एंड प्रोग्राम इंप्लीमेंटेशन

नोट: हिमाचल, बिहार अनुमानित

 

 

केन्‍द्र सरकार के लिए राह होगी आसान 

इस जीत के साथ ही केन्‍द्र सरकार को अपनी पॉलिसीज को लागू करने में आसानी होगी। साथ ही गुजरात जैसे कारोबारी राज्‍य में मिली जीत ने यह साफ कर दिया है कि जीएसटी का बीजेपी की साख पर कोई निगेटिव इंपैक्‍ट नहीं पड़ा है। 

 

 

5 तिमाही बाद जुलाई-सितंबर में जीडीपी में आई तेजी 

करीब 5 तिमाही के बाद जुलाई-सितंबर तिमाही के दौरान देश की जीडीपी ग्रोथ 6.3 फीसदी दर्ज की गई। इससे पहले जून में खत्‍म तिमाही में यह 5.7 दर्ज की गई थी, जो पिछले 3 साल का सबसे लो लेवल थी।

 

अगले साल 7.5 फीसदी ग्रोथ रेट का अनुमान 

नोटबंदी और जीएसटी से देश की जीडीपी ग्रोथ में आई गिरावट के बाद केन्‍द्र सरकार को कड़ी आलोचना का सामना करना पड़ रहा था। लेकिन सितंबर तिमाही में जीडीपी में फिर से तेजी आने के बाद सरकार को राहत मिली है। वहीं नोमुरा और मॉर्गन स्‍टेनले जैसी रेटिंग एजेंसियों ने भी भारत के लिए सकारात्‍मक अनुमान जताया है। रेटिंग एजेंसियों को अनुमान है कि 2018 में देश की जीडीपी ग्रोथ रेट 7.5 फीसदी रहेगी। 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट