विज्ञापन
Home » Economy » PolicyBanking sector on the target of cyber hackers

साइबर हैकर्स के निशाने पर बैंकिंग सेक्टर, खुद को अपडेट रखें बैंक

राष्ट्रीय साइबर सुरक्षा समन्वयक ने जताई आशंका

Banking sector on the target of cyber hackers

सरकार के एक शीर्ष अधिकारी ने बताया कि बैंकिंग प्रणाली को साइबर सुरक्षा से जुड़े खतरों एवं चुनौतियों एवं प्रौद्योगिकी में हो रहे बदलावों से निपटने के लिए खुद को तैयार रखना होगा। अधिकारी ने बताया कि बैंकों के लिए जरूरी है कि वे अपने सॉफ्टवेयर को मजबूत बनाएं क्योंकि उन पर साइबर हमले की आशंका सर्वाधिक होती है।

मुंबई। सरकार के एक शीर्ष अधिकारी ने बताया कि बैंकिंग प्रणाली को साइबर सुरक्षा से जुड़े खतरों एवं चुनौतियों एवं प्रौद्योगिकी में हो रहे बदलावों से निपटने के लिए खुद को तैयार रखना होगा। अधिकारी ने बताया कि बैंकों के लिए जरूरी है कि वे अपने सॉफ्टवेयर को मजबूत बनाएं क्योंकि उन पर साइबर हमले की आशंका सर्वाधिक होती है।

 

सुरक्षा से जुड़ी चुनौतियों के लिए खुद को तैयार करना जरूरी- गुलशन राय

 

प्रधानमंत्री कार्यालय में राष्ट्रीय सुरक्षा परिषद सचिवालय में राष्ट्रीय साइबर सुरक्षा समन्वयक गुलशन राय ने भारतीय बैंक संघ (आईबीए) की ओर से आयोजित एक कार्यक्रम को वीडियो लिंक के जरिए संबोधित करते हुए कहा, "जरूरी है कि हम सुरक्षा से जुड़ी चुनौतियों, खतरे और प्रौद्योगिकी में होने वाले बदलावों से पैदा होने वाली चुनौतियों के लिए खुद को तैयार करें।" 

 

बैंकों को अपनी क्षमता का विस्तार अधिक तेजी से करना चाहिए

 

राय ने कहा कि नई-नई प्रौद्योगिकी को अंगीकार करने से पैदा होने वाले खतरों और चुनौतियों से निपटने के लिए बैंकों को अपनी क्षमता का विस्तार अधिक तेजी से करना चाहिए। उन्होंने कहा, "हम इस दुनिया में अगली पीढ़ी की चीजों से जूझ रहे हैं। हर सॉफ्टवेयर और हार्डवेयर अगली पीढ़ी का है।"  उन्होंने 5जी नेटवर्क की शुरुआत का उल्लेख करते हुए कहा, "पांचवीं पीढ़ी की प्रौद्योगिकी के आने के साथ सभी तरह की प्रणालियों को उल्लेखनीय रूप से उन्नत बनाये की जरूरत होगी।"

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
विज्ञापन
विज्ञापन