विज्ञापन
Home » Economy » PolicyAzim Premji left mukesh ambani in country's most cash rich promoter

जानिए उन शख्स के बारे में, जिन्होंने नकद दौलत के मामले में मुकेश अंबानी को पछाड़ा

शेयर बायबैक के जरिए बढ़ गई कमाई, निवेशकों को भी हुआ फायदा

1 of

नई दिल्ली। रिलायंस इंडस्ट्रीज के मुखिया मुकेश अंबानी देश के सबसे अमीर कारोबारी हैं। वह करीब 3,28,165 करोड़ रुपए की संपत्ति के मालिक हैं। उनकी अगुवाई में रिलायंस ग्रुप हर साल कमाई के मामले में नई इबारत लिख रहा है। लेकिन बीते तीन सालों में नकद दौलत के मामले में मुकेश अंबानी पिछड़ गए हैं। वह इस मामले में देश में चौथे स्थान पर आते हैं। उनसे आगे भारत के ही तीन और अन्य कारोबारी आते हैं।

 

मुकेश अंबानी को इस शख्स ने दी मात
बीते तीन सालों में नकद कमाई के मामले में मुकेश अंबानी को विप्रो के अजीम प्रेमजी ने मात दी है। इन तीन सालों में अजीम प्रेमजी ने 10,115 करोड़ रुपए की नकद कमाई की है। उन्होंने यह कमाई इक्विटी डिवीडेंड और शेयर बायबैक के जरिए की हैं। नकद कमाई के मामले में अजीम प्रेमजी के बाद 9159 करोड़ की कमाई के साथ वेदांता के अनिल अग्रवाल और 6492 करोड़ की कमाई के साथ एचसीएल टेक्नोलॉजी के शिव नाडर का नंबर आता है। इन तीनों ने इक्विटी डिवीडेंड और शेयर बायबैक के जरिए बीते तीन सालों में 20 हजार करोड़ से ज्यादा की कमाई की है। 

नेटवर्थ के मामले में मुकेश अंबानी टॉप पर 


बीते तीन सालों में नकद कमाई के मामले में चौथे स्थान पर रहने के बाद भी रिलायंस इंडस्ट्रीज के मुखिया मुकेश अंबानी कुल नेटवर्थ के मामले में सभी कारोबारियों पर भारी हैं। इस समय मुकेश अंबानी की नेटवर्थ करीब 3,28,165 करोड़ रुपए हैं। मुकेश अंबानी की यह नेटवर्थ रिलायंस इंडस्ट्रीज में उनकी हिस्सेदारी पर आधारित हैं। नेटवर्थ के मामले में मुकेश अंबानी के बाद विप्रो के अजीम प्रेमजी का ही नंबर आता है वह 1.1 लाख करोड़ रुपए की संपत्ति के मालिक हैं। इसके बाद अडानी ग्रुप 81 हजार करोड़ रुपए के साथ तीसरे नंबर पर आता है। 

शेयर बायबैक से बढ़ रही नकद दौलत


बीते तीन सालों में कंपनियों ने शेयर बायबैक को बढ़ावा दिया है। इससे कंपनियों के पास नकद दौलत बढ़ रही है। बीते तीन सालों में सबसे ज्यादा नकद दौलत कमाने वाले उद्योगपतियों की कमाई में 56.5 फीसदी हिस्सेदारी शेयर बायबैक की रही है। 2016-17 के आम बजट में 10 लाख तक की डिवीडेंड इनकम को टैक्स फ्री किए जाने के बाद कंपनियों ने शेयर बायबैक को बढ़ावा दिया है। 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
विज्ञापन
विज्ञापन