विज्ञापन
Home » Economy » PolicyArunachal Pradesh's capital is becoming the first airport costs Rs 1055 crore

1055 करोड़ रुपए की लागत से बनने वाले इस एयरपोर्ट को मिली पीएम मोदी की मंजूरी, बढ़ जाएगी चीन की परेशानी

यह इस राज्य का पहला एयरपोर्ट होगा

1 of

 

 

नई दिल्ली। 29 साल पहले राज्य बनने के बाद भी अरुणाचल प्रदेश की राजधानी ईटानगर के लिए एयरपोर्ट का  दशकों पुराना सपना साकार होगाअब यहां की स्थिति बदलने जा रही है। अरुणाचल प्रदेश की राजधानी में एयरपोर्ट बनाने के लिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने मंजूरी दे दी हैइस एयरपोर्ट की लागत 1055 करोड़ रुप होगी और इस प्रोजेक्ट को पब्लिक इनवेस्टमेंट बोर्ड (पीआईबी) ने मंजूरी दे दी है ग्रीनफील्ड हवाई अड्डे पर प्रस्तावित 2,200 मीटर का एक बड़ा रनवे होगा जो जेट विमान को संभाल सकता हैइससे मेट्रो शहरों के लिए सीधी उड़ानों की सुविधा मिलेगी बाद में अंतरराष्ट्रीय स्थलों के लिए उड़ान की सुविधा भी दी जाएगी।

 

इससे चीन की परेशानी भी बढ़ जाएगी

चीन की सीमा से सटे होने के कारण इस एयरपोर्ट का सामरिक महत्व भी होगा चीन अरुणाचल प्रदेश पर अपना नाजायज हक भी जताता रहता है ऐसे में अरुणाचल प्रदेश में एयरपोर्ट के निर्माण से चीन की परेशानी निश्चित रूप से बढ़ेगी पेमा खांडू ने ट्वीट किया, 'टीम अरुणाचल के लिए खुशखबरी है कि राजधानी में अपने एयरपोर्ट के दशकों पुराने सपने को आज पीआईबी में मंजूरी मिल गई'


 

इससे पहले अरुणाचल प्रदेश को मिल चुका है बोगीबील पुल

पीएम मोदी ने असम से अरुणाचल प्रदेश को जोड़ने वाले बोगीबील पुल का उद्घाटन किया था। यह एशिया का दूसरा सबसे बड़ा रोड  रेल पुल है जो उत्तरी असम के डिब्रूगढ़ और धेमाजी के बीच ब्रह्मपुत्र नदी पर बनाया गया है। इससे पहले पेमा खांडू ने कहा था कि राज्य की राजधानी में बनने वाले होलोन्गी ग्रीनफील्ड एयरपोर्ट की आधारशिला जनवरी महीने में खुद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी रखेंगे

 

 

माना जा रहा है कि इस एयरपोर्ट पर सिक्किम के पोकयांग एयरपोर्ट से बेहतर सुविधाएं दी जाएंगी। एयरपोर्ट के निर्माण के लिए 350 करोड़ की पहली किश्त जल्द जारी की जाएगी

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
विज्ञापन
विज्ञापन
Don't Miss