विज्ञापन
Home » Economy » PolicyHow to apply online for Voter ID card, documents and procedure

चुनाव आयोग ने दी बड़ी सहूलियत, अब आप घर बैठे बनवा सकते हैं अपना वोटर आईडी कार्ड, यहां जानिए कैसे

नौकरीपेशा लोगों के लिए चुनाव आयोग लेकर आया बड़ी राहत

1 of

नई दिल्ली.

अगर आप 18 साल से ऊपर है और वोटर आईडी कार्ड बनवाना चाहते हैं तो आपको अब इसके लिए दफ्तरों के चक्कर नहीं काटने पड़ेंगे। अब आप अपने घर पर बैठकर स्मार्टफोन या लैपटॉप की मदद से वोटर आईडी कार्ड के लिए आवेदन कर सकते हैं। एक महीने के अंदर आपको अपना वोटर कार्ड मिल भी जाएगा। चुनाव आयोग आपके लिए जल्द ही यह सहूलियत करने वाला है। इस प्रक्रिया को शुरू करके आयोग सुनिश्चित करना चाहता है कि ज्यादा से ज्यादा लोग चुनाव में वोट डाल सकें। इसके लिए चुनाव आयोग ने नए मतदाताओं का वोटर आईडी कार्ड बनाने की प्रक्रिया को शुरू कर दिया है। इस बार भारत के बाहर रह रहे प्रवासी भारतीय भी चुनाव आयोग की वेबसाइट पर जाकर के पंजीकरण करा सकते हैं।

 

ऐसे बनवाएं कार्ड

ऑनलाइन वोटर आईडी कार्ड बनवाने के लिए आपके पास पर्सनल ईमेल आईडी और मोबाइल नंबर होना चाहिए, जिससे चुनाव आयोग को आपसे संपर्क करने में आसानी हो। कार्ड बनावाने के लिए सबसे पहले आपको चुनाव आयोग की वेबसाइट https://www.nvsp.in/ पर जाना होगा। इस वेबसाइट पर एनआरआई अपना रजिस्ट्रेशन और आम भारतीय भी नया वोटर आईडी कार्ड के लिए आवेदन कर सकेंगे। ऑप्शन पर क्लिक करने के बाद आपके सामने एक पेज खुलेगा जिस पर आपको अपनी सभी जानकारी भरनी होगी। इसमें आपको व्हाइट बैकग्राउंड वाली पासपोर्ट साइज कलर फोटो भी अपलोड करनी होगी।

 

इन डॉक्यूमेंट्स की पड़ेगी जरूरत

वोटर आई-डी कार्ड के लिए आपको एड्रेस प्रूफ और आईडी प्रूफ में अलग-अलग डॉक्यूमेंट्स की कॉपी अपलोड करनी पड़ेगी। इसके लिए आप आधार कार्ड, पासपोर्ट, दसवीं की मार्कशीट, बर्थ सर्टिफिकेट, पैन कार्ड, ड्राईविंग लाइसेंस, आधार कार्ड, बैंक की पासबुक, फोन/पानी/बिजली/गैस का बिल, इनकम टैक्स का फॉर्म 16 आदि में से किन्हीं दो डॉक्यूमेंट्स की स्कैन कॉपी को अपलोड कर सकते हैं।

 

 

 

15 दिन तक कर सकेंगे बदलाव

एक बार आपने फॉर्म भरकर सब्मिट कर दिया, तो उसके 15 दिन बाद तक आप अपनी जानकारी में बदलाव कर सकते हैं। आप अपने वोटर आईडी कार्ड आवेदन का स्टेटस भी ऑनलाइन चेक भी कर सकते हैं। जानकारी देने के बाद चुनाव आयोग की तरफ से नियुक्त आपके एरिया का बूथ लेवल ऑफिसर (बीएलओ) आपके घर पर आएगा और जिन डॉक्यूमेंट्स को आपने अपलोड किया है उनको चेक करेगा और इन डॉक्यूमेंट्स की हार्ड कॉपी को वैरिफाई करने के लिए ले जाएगा। इसके बाद एक माह के अंदर पोस्ट द्वारा आपके घर पर वोटर आई-डी कार्ड पहुंच जाएगा।

 

 

नौकरीपेशा लोगों के लिए बड़ी राहत

अगर आपका वोटर आईडी कार्ड पहले से बना हुआ है, लेकिन आप उस जगह पर रहते नहीं हैं जाे पता आपने कार्ड में लिखवाया हुआ है, तो आप पता बदलवाने का आवेदन भी ऑनलाइन कर सकते हैं। इससे नौकरीपेशा लोगों को काफी सहूलयित मिलेगी जो छुट्‌टी न मिलने के कारण वोट डालने के लिए अपने मूल स्थान नहीं जा पाते हैं।

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
विज्ञापन
विज्ञापन