बिज़नेस न्यूज़ » Economy » PolicyFacebook , whatsapp पर सख्ती से ठन सकती है भारत एवं अमेरिका की

Facebook , whatsapp पर सख्ती से ठन सकती है भारत एवं अमेरिका की

अमेरिकी कंपनी फेसबुक व व्हाट्सएेप पर भारत सरकार की सख्ती से भारत व अमेरिका के बीच ठन सकती है।

america may raise issues of facebook and whatsapp with india

मनी भास्कर, नई दिल्ली

 

अमेरिकी कंपनी फेसबुक व व्हाट्सएेप पर भारत सरकार की सख्ती से भारत व अमेरिका के बीच ठन सकती है। वाणिज्य व उद्योग मंत्रालय के सूत्रों के मुताबिक भविष्य में भारत व अमेरिका के बीच होने वाले ट्रेड बातचीत में अमेरिका इन मुद्दों को उठा सकता है। भारत के सोशल मीडिया बाजार पर अमेरिका के फेसबुक, व्हाट्सऐप व गूगल ने कब्जा जमा रखा है।

 

क्या चाह रहा है भारत

 

भारत का कहना है कि इन कंपनियों को यह बताना ही पड़ेगा कि कौन सा मैसेज असली में कहां से निकला है। इस बात की जानकारी सरकार को मुहैया कराना सोशल मीडिया कंपनियों की जिम्मेदारी होगी। सरकार का कहना है कि अगर सोशल मीडिया कंपनियां ऐसा नहीं करती हैं तो उनके खिलाफ आपराधिक कार्रवाई हो सकती है। आईटी मंत्रालय सोशल मीडिया कंपनियों को पहले ही यह कह चुकी है कि भारत में एकत्रित होने वाले डाटा को ये कंपनियां बाहर नहीं भेज सकती है और इन डाटा को भारत में ही स्टोर करना होगा। ऐसा करने पर सोशल मीडिया कंपनियों की लागत बढ़ेगी।

 

क्या हो सकती है अमेरिका की आपत्ति

 

मंत्रालय सूत्रों के मुताबिक भारत के डाटा को भारत में ही स्टोर करने के मसले पर अमेरिका भी भारतीय कंपनियों के लिए ऐसा नियम लागू करने की बात कर सकता है। कई भारतीय कंपनियां अमेरिका में काम करती हैं और वे आउटसोर्सिंग के लिए वहां के डाटा का इस्तेमाल करती है। भारत का यह भी कहना है कि सोशल मीडिया कंपनियों को स्थानीय निकाय (लोकल बॉडीज) के नियमों का पालन करना होगा। हाल ही में आईटी व इलेक्ट्रॉनिक्स मंत्रालय ने फेसबुक व व्हाट्सऐप जैसे सोशल मीडिया से कहा था कि वे भारत में अपना नोडल अधिकारी नियुक्त करे  ताकि उनके प्लेटफॉर्म पर चलने वाले किसी मैसेज से संबंधित शिकायत उनके पास की जा सके।

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट