विज्ञापन
Home » Economy » Policy12 villages farmers will become rich by this highway

दिल्ली-यूपी के इन 12 गांवों के किसान हो जाएंगे मालामाल, जानिए क्या है वजह

इन गांवों की लिस्ट तैयार कर ली गई है, जल्द ही किसानों की डिटेल्स प्रशासन को भेजी जाएंगी

1 of

नई दिल्ली। भारत माला परियोजना के तहत दिल्ली के अक्षरधाम मंदिर के पास (दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेस-वे) से खेकड़ा तक बनने वाली हाईवे से सैकड़ों किसानों काे फायदा मिलने वाला है। इस हाईवे के लिए जमीन अधिग्रहण की प्रक्रिया जल्द ही शुरू होगी। हाईवे को खेकड़ा (मवीकलां गांव) में ईस्टर्न पेरिफेरल एक्सप्रेस-वे और दिल्ली-सहारनपुर हाईवे से जोड़ा जाएगा। NHAI  को हाईवे निर्माण के लिए लोनी क्षेत्र के 12 गांव के किसानों की जमीन का अधिग्रहण करना है। दिल्ली से यूपी तक बेतहर कनेक्टिविटी से उद्योग को बढ़ावा मिलेगा। लोनी क्षेत्र विकास का गढ़ बनने की उम्मीद है।

 

इन गांवों के किसानों का होगा जमीन अधिग्रहण

इस हाईवे के लिए जिन गांवों का अधिग्रहण होना है इनकी सूची तैयार कर ली गई है। न गांव के किसानों की डिटल्स प्रशासन को भेजे जाएंगे। नए भूमि अधिग्रहण एक्ट के तहत किसानों को मुआवजा दिया जाएगा। किसानों को सर्किल रेट के हिसाब से शहरी क्षेत्र में दो गुना और देहात क्षेत्र में चार गुणा मुआवजा दिया जाएगा। ये गांव है: लोनी देहात, हकीकतपुर, सैदुलाबाद, पावी सदकपुर,शादाबाद दुर्गावली, अगरोला, मिलक बामला,मंडौला और नानू गांव। यहां के किसानों को मोटी रकम दी जाएगी।

 

ढ़ाई घंटे का सफर 20 मिनट में..

12 किलोमीटर की एलिवेटेड रोड बनाई जाएगी

 

इसमें करीब 12 किलोमीटर की एलिवेटेड रोड बनाई जाएगी जिसमें दिल्ली में 14.7 किलोमीटर लंबी सड़क बनेगी और यूपी में  इसकी लंबी 17.5 किलोमीटर होगी। इसमें से छह किलोमीटर एलिवेटेड रोड होगी। जनवरी में टेंडर निकाल दिए जाएंगे। मार्च में काम शुरू होगा।

 

 

 

लोनी में टोल प्लाजा बनाया जाएगा

32 किलोमीटर से ज्यादा लंबी सड़क पर एक टोल प्लाजा बनाया जाएगा। लोनी में टोल प्लाजा बनाया जाना है। इसके लिए जमीन भी देख ली गई है। टोल बनाने पर अधिकारियों के बीच मंथन हो गया है। एनएचएआई ने इस बारे में जिलाधिकारी को भी अवगत करा दिया है।

 
prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
विज्ञापन
विज्ञापन
Don't Miss