विज्ञापन
Home » Economy » Policy110 Lok Sabha Seats Under EC Watch For Being Expenditure Sensitive

चुनाव आयोग के रडार पर रहेंगी ये 110 लोकसभा सीटें, यहां पैसों के दम पर खरीदे जाते हैं वोट

इन चुनावों में 50,000 करोड़ रुपए से भी ज्यादा खर्च होने का अनुमान है

110 Lok Sabha Seats Under EC Watch For Being Expenditure Sensitive

110 Lok Sabha Seats Under EC Watch For Being Expenditure Sensitive: आगामी लोकसभा चुनावों से पहले चुनाव आयोग ने ऐसी 110 लोकसभा सीटों की पहचान की है, जहां पैसों के दम पर वोटर्स को प्रभावित किया जाने की संभावना है। इन सीटों को चुनाव आयोग ने 'खर्च के मामले में संवेदनशील’ बताया है। चुनाव आयोग के मुताबिक राज्यों की सीटों के आंकड़े आने पर संवेदनशील लोकसभा सीटों का आंकड़ा 150 के पार जा सकता है।

नई दिल्ली.

आगामी लोकसभा चुनावों से पहले चुनाव आयोग ने ऐसी 110 लोकसभा सीटों की पहचान की है, जहां पैसों के दम पर वोटर्स को प्रभावित किया जाने की संभावना है। इन सीटों को चुनाव आयोग ने 'खर्च के मामले में संवेदनशील’ बताया है। चुनाव आयोग के मुताबिक राज्यों की सीटों के आंकड़े आने पर संवेदनशील लोकसभा सीटों का आंकड़ा 150 के पार जा सकता है।

 

इन सीटों की निगरानी के लिए भेजे जाएंगे दो अफसर

यह पहली बार है जब चुनाव आयोग ने दन सीटों में खर्च पर नजर रखने के लिए दो अधिकारी भेजने का निर्णय लिया है। ये अधिकारी उन निर्वाचन क्षेत्रों में धरातल पर होने वाली गतिविधियों पर नजर रखेंगे। हाल ही में गठित की गई Multi Department Election Intelligence Committee (MDIC) भी इन निर्वाचन क्षेत्रों पर करीब से नजर रखेगी और अवैध धन को जब्त करेगी।

 

ये सीटें आई रडार पर

तमिलनाडु की सभी सीटों के अलावा आंध्र प्रदेश, तेलंगाना, बिहार, कर्नाटक और गुजरात की आधी से ज्यादा लोकसभा सीटों को खर्च के मामले में संवेदनशील घोषित किया गया है। और राज्यों की सीटों का ब्यौरा आने पर यह संख्या 150 से ज्यादा होने का अनुमान है। यक आकलन हर राज्य के चीफ इलेक्टोरल ऑफिसर्स (CEOs) की ओर से दी गई जानकारी के आधार पर किया गया है।

 

Money Power का मसला है बड़ा

2014 के लोकसभा चुनावों के दौरान चुनाव आयोग ने 1,200 करोड़ रुपए जब्त किए थे, इसमें से 300 करोड़ रुपए कैश थे। इस 300 करोड़ रुपए में से 124 करोड़ रुपए आंध्र प्रदेश में जब्त किए गए थे जबकि पंजाब में 700 करोड़ रु से ज्यादा के ड्रग्स पकड़े गए थे। तब से 2018 तक चुनाव आयोग ने 1,837.52 करोड़ रुपए जब्त किए जाने की जानकारी दी है। नवंबर-दिसंबर 2018 में पांच राज्यों में हुए चुनावों में 296 करोड़ रुपए जब्त किए गए। Center for Media Studies ने अनुमान लगाया है कि इन लोकसभा चुनावों में 50,000 करोड़ रुपए से ज्यादा धन खर्च किया जाएगा।

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
विज्ञापन
विज्ञापन