विज्ञापन
Home » Economy » InternationalMukesh Ambani is not only earning but also in charity.

Ambani's Birthday Special / सिर्फ कमाते ही नहीं हैं मुकेश अंबानी बल्कि दान में भी रहते हैं अव्वल

मुकेश अंबानी ने अक्टूबर 2017 से सितंबर 2018 के बीच सबसे अधिक 437 करोड़ रुपए दान किए थे

Mukesh Ambani is not only earning but also in charity.
  • बीते साल हुरुन शोध संस्थान की रिपोर्ट में अंबानी सबसे ऊपर थे
  • सबसे बड़े दानवीर विप्रो के अजीम प्रेमजी हैं लेकिन हर साल दान देने वालों में अंबानी आगे

नई दिल्ली.  रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड (RIL) के मुखिया मुकेश अंबानी का आज जन्म दिन है। साल 1962 में यमन में उनका जन्म हुआ था। वे फोर्ब्स की सूची में दुनिया के तेरहवें  सबसे अमीर व्यक्ति हैं। परोकपकार के मामले में भी देश के सभी कारोबारियों पर भारी हैं। हुरुन शोध संस्थान की रिपोर्ट हुरुन इंडिया परोपकार सूची वर्ष 2018 में मुकेश अंबानी को पहला स्थान मिला था। इस सूची के अनुसार मुकेश अंबानी ने अक्टूबर 2017 से सितंबर 2018 के बीच सबसे अधिक 437 करोड़ रुपए का योगदान दिया है।

लिस्ट में 10 करोड़ से अधिक दान देने वालों के नाम

हुरुन शोध संस्थान की सूची में 10 करोड़ से अधिक का दान देने वालों के नाम शामिल हैं। इस सूची में कुल 39 लोगों को नाम शामिल किए गए हैं। सूची के अनुसार, मुकेश अंबानी के बाद दूसरे नंबर पर पीरामल समूह के चेयरमैन अजय पीरामल का नाम आता है। अजय पीरामल ने इस अवधि में परोपकार के लिए 200 करोड़ रुपए दान के रूप में दिए हैं। आपको बता दें कि अजय पीरामल मुकेश अंबानी के समधी हैं। मुकेश अंबानी की बेटी ईशा अंबानी की शादी अजय पीरामल के बेटे आनंद पीरामल से बीते साल दिसंबर में हुई है।

यह भी पढ़ें : महज तीन साल में इस कंपनी का कारोबार साढ़े तीन गुना और मुनाफे में 32 गुना से ज्यादा की बढ़ोतरी

सर्वाधिक दान में प्रेमजी आगे 

आईटी दिग्गज और विप्रो के अध्यक्ष अजीम प्रेमजी (Azim Premji) ने हाल ही में 52,750 करोड़ रुपये (7.5 अरब डॉलर) बाजार मूल्य के शेयर दान कर दिए हैं। लिहाजा वे भारतीयों में सर्वाधिक दान देने के मामले में अव्वल हैं।  प्रेमजी ने जो रकम दान की है वह विप्रो (Wipro) लिमिटेड की 34 प्रतिशत हिस्सेदारी है। उनके फाउंडेशन ने बयान जारी करके कहा है कि इस पहल से, प्रेमजी द्वारा परोपकार कार्य के लिए दान की गई कुल रकम 145,000 करोड़ रुपये (21 अरब डॉलर) हो गई है, जोकि विप्रो लिमिटेड के आर्थिक स्वामित्व का 67 प्रतिशत है। 

यह भी पढ़ें : 1.37 लाख रु. कीमत वाले सैमसंग गैलेक्सी फोल्ड की स्क्रीन दो ही दिन में टूटी, रिव्यूअर ने उठाए सवाल

रिलायंस फाउंडेशन के जरिए खर्च करते हैं मुकेश अंबानी

देश के सबसे अमीर कारोबारी मुकेश अंबानी परोपकार का कार्य रिलायंस फाउंडेशन के माध्यम से करते हैं। उनकी यह संस्था शिक्षा, समाज, ग्रामीण विकास और स्वास्थ्य सुविधाओं के क्षेत्रों में कार्य करती है। इस संस्था के माध्यम से ही कॉरपोरेट सामाजिक जिम्मेदारी (सीएसआर) खर्च किया जाता है।

यह भी पढ़ें : कमी / सालों से गर्मी में गला तर करने वाला रूह अफजा शर्बत बाजार से गायब

नमामि गंगे अभियान से जुड़ा जियो गंगा

गंगा को स्वच्छ रखने के लिए रिलायंस जियो नमामि गंगे कार्यक्रम से जुड़ा है। इस मिशन के तहत जियो अपने यूजर्स को गंगा को स्वच्छ रखने के लिए मैसेज और नोटिफिकेशन भेजता है। इसके लिए कंपनी ने नेशनल मिशन फॉर क्लीन गंगा (एनएमसीजी) के साथ एक समझौता किया है।

यह भी पढ़ें : गांव में दबा है 2.43 लाख करोड़ का सोना पर लोगों ने अकूत दौलत का लालच छोड़ा, खुदाई से किया इनकार

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
विज्ञापन
विज्ञापन
Don't Miss