बिज़नेस न्यूज़ » Economy » Internationalलंदन की कोर्ट में पेश हुए विजय माल्या, कहा-भारत में मेरी जान को खतरा

लंदन की कोर्ट में पेश हुए विजय माल्या, कहा-भारत में मेरी जान को खतरा

विजय माल्या प्री ट्रायल हेयरिंग के दौरान सोमवार को वेस्टमिंस्टर मजिस्ट्रेट की कोर्ट में पेश हुए।

1 of

 

लंदन. भारत में भगोड़ा घोषित शराब कारोबारी विजय माल्या प्री ट्रायल हेयरिंग के दौरान सोमवार को वेस्टमिंस्टर मजिस्ट्रेट की कोर्ट में पेश हुए। उन्होंने भारत में अपनी जान पर खतरा बताते हुए प्रत्यर्पण का विरोध किया। हालांकि कोर्ट ने इस बात की पुष्टि की कि प्रत्यर्पण केस की सुनवाई 4 दिसंबर से लगातार 8 दिन तक चलेगी।

 

भारत में मेरी जान को खतराः माल्या

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, वेस्टमिंस्टर कोर्ट में पेश हुए विजय माल्या ने भारत में अपनी जान पर खतरा बताते हुए प्रत्यर्पण का विरोध किया। ऐसे में अब भारत सरकार अगली सुनवाई में उन सुरक्षा उपायों के बारे में जानकारी देगी, जो माल्या के लिए किए जाएंगे।

 

4 दिसंबर से शुरू होगी प्रत्यर्पण मामले की सुनवाई

61 वर्षीय कारोबारी इस साल की शुरुआत में स्कॉटलैंड यार्ड द्वारा जारी प्रत्यर्पण वारंट पर बेल पर बाहर हैं और उन्हें 4 दिसंबर को पेश होने के लिए कहा गया है। माल्या का ट्रायल 14 दिसंबर तक चलेगा, जिसमें 4 दिसंबर से सुनवाई शुरू होगी।

 

माल्या ने कहा-मैं निर्दोष हूं

केस मैनेजमेंट हेयरिंग के लिए जाते समय रिपोर्टर्स से बातचीत में माल्या ने कहा कि उन्होंने कुछ भी गलत नहीं किया है और वह लगातार ऐसा कह रहे हैं। उन्होंने कहा कि वह इसके सबूत कोर्ट में देंगे। उन्होंने कहा, 'वह कोर्ट में निर्दोष साबित होंगे।'

 

भारत ने लगाए 'सप्लीमेंट' चार्जेस

माल्या के खिलाफ भारत की तरफ से केस लड़ रही यूके की क्राउन प्रोसिक्यूशन सर्विस (सीपीएस) ने 3 अक्टूबर को हुई पिछली हेयरिंग से इतर मनी लॉन्ड्रिंग के अतिरिक्त 'सप्लामेंट' चार्जेस पेश किए।

 

मार्च, 2016 में भागे थे लंदन

माल्या मार्च, 2016 में लंदन भागे थे। इस प्रकार भारत से भागे हुए उन्हें डेढ़ साल से ज्यादा वक्त हो चुका है। भारत सरकार पिछले काफी समय से माल्या को लंदन से वापस लाने की कोशिशें कर रही थी। भारत सरकार ब्रिटेन में माल्या के प्रत्यर्पण के लिए लगातार कोशिशें कर रही है।

 

माल्या पर कितना कर्ज?

-31 जनवरी 2014 तक किंगफिशर एयरलाइंस पर बैंकों के 6,963 करोड़ रुपए बकाया था। इस कर्ज पर इंटरेस्ट के बाद माल्या की कुल लायबिलिटी 9,000 करोड़ रुपए से हो चुकी है।

- किंगफिशर एयरलाइंस अक्टूबर 2012 में बंद हो गई थी। दिसंबर 2014 में इसका फ्लाइंग परमिट भी कैंसल कर दिया गया था।

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट