Home »Economy »International» Jaitley May Take Up H-1B Visa Issue With US Authorities

ट्रम्‍प प्रशासन के सामने H-1B वीजा का मुद्दा उठाएंगे जेटली, यूएस दौरे पर आज होंगे रवाना

ट्रम्‍प प्रशासन के सामने H-1B वीजा का मुद्दा उठाएंगे जेटली, यूएस दौरे पर आज होंगे रवाना
नई दिल्‍ली।अमेरिका की तरफ से H-1B वीजा को लेकर बरती जा रही सख्‍ती के खिलाफ भारत अपना विरोध दर्ज करेगा। यूएस दौरे पर जा रहे वित्‍त मंत्री अरुण जेटली वीजा मुद्दे को वहां की सरकार के सामने उठाने की तैयारी कर रहे हैं। वित्‍त मंत्री बुधवार रात को यूएस के 5 दिवसीय दौरे पर रवाना होंगे।    
 
वीजा मुद्दे पर होगी चर्चा
अरुण जेटली ने कहा कि आईटी इंडस्‍ट्री और इससे जुड़े मुद्दे यूएस अथॉरिटीज के सामने उठाने लायक हैं। इन मुद्दों पर चर्चा की जाएगी। अमेरिकी सरकार एच-1बी वीजा के नियमों को कड़ा करने की तैयारी कर रही है। इंडियन आईटी इंडस्‍ट्री ने इस बदलाव को लेकर चिंता जाहिर की है। यह वीजा प्रोग्राम ज्‍यादातर शॉर्ट टर्म के लिए डोमेस्टिक वर्कर्स द्वारा इस्‍तेमाल किया जाता है।
 
वर्ल्‍ड बैंक और आईएमएफ की मीटिंग में होंगे शामिल
वित्‍त मंत्री अरुण जेटली ने बुधवार की रात को अमेरिका के 5 दिवसीय दौरे पर निकलेंगे। वह यहां वर्ल्‍ड बैंक और आईएमएफ की स्प्रिंग मीटिंग में हिस्‍सा लेंगे। इसके अलावा वह जी20 नेशंस के प्रतिनिधियों की बैठक में भी शामिल होंगे। वॉशिंगटन और न्‍यूयॉर्क में वह अमेरिकी सीईओ के प्रतिनिधिमंडल से भी मुलाकात करेंगे।
 
वीजा नियमों को सख्‍त करने में लगा है यूएस
यूएस प्रेसिडेंट डोनाल्‍ड ट्रम्‍प ने एच-1बी वीजा प्रोग्राम के नियम कड़े करने के लिए एक्‍जीक्‍यूटिव ऑर्डर पर साइन कर लिए हैं। ट्रम्‍प प्रशासन का कहना है कि इस ऑर्डर के जरिए वह इस वीजा प्रोग्राम के दुरुपयोग पर रोक लगाना चाहते हैं। इसके अलावा वह यूएस ट्रेजरी सेक्रेटरी के साथ भी मीटिंग करेंगे।
 
विदेश मंत्रालय भी यूएस से साध रहा है संपर्क
इसी बीच, विदेश मंत्रालय ने जानकारी दी है कि वह यूएस सरकार के लगातार संपर्क में हैं। भारत की तरफ से एच1-बी वीजा को लेकर बात की जा रही है। इसके अलावा भारत ऑस्‍ट्रेलिया के साथ भी बातचीत कर रहा है। उसकी तरफ से वीजा प्रोग्राम में किए गए बदलाव को लेकर बात चल रही है।

Recommendation

    Don't Miss

    NEXT STORY