बिज़नेस न्यूज़ » Economy » InternationalRecap प्लान से सुधरेगी इकोनॉमी, GST-नोटबंदी से आई पारदर्शिता: जेटली

Recap प्लान से सुधरेगी इकोनॉमी, GST-नोटबंदी से आई पारदर्शिता: जेटली

सिंगापुर विजिट के दौरान जेटली ने कहा कि जीएसटी और नोटबंदी से जहां पारदर्शिता बेहतर हुई है।

1 of

नई दिल्ली। भारत और सिंगापुर भविष्‍य में बाईलैटरल ट्रेड बढ़ाने के लिए कई पहलुओं पर काम करेंगे। इस मसले पर आज फाइनेंस मिनिस्ट अरुण जेटली और सिंगापुर के पीएम ली हिएन ने मुलाकात की। दोनों के बीच निवेश बढ़ाने, इकोनॉमिक और कॉमर्शियल समझौत के लिए रोडमैप तैयार करने के अलावा जीएसटी पर बात हुई। सिंगापुर विजिट के दौरान जेटली ने कहा कि जीएसटी और नोटबंदी से जहां पारदर्शिता बेहतर हुई है, वहीं रीकैपिटलाइजेशन प्लान से देश की इकोनॉमी में सुधार होगा। 

 

 

जेटजी ने गिनाए 3 बड़े रिफॉर्म 
इसके पहले जेटली ने सिंगापुर में निवेशकों के साथ मीटिंग में कहा कि आधार, नोटबंदी और जीएसटी से भारत में पारदर्शिता बेहतर हुई है। वहीं, इससे कैश से कैशलेस इकोनॉमी की ओर शिफ्ट करने में भी मदद मिल रही है। उन्होंने कहा कि सरकार द्वारा किए गए इन 3 प्रमुख रिफॉर्म्स से इकोनॉमी को अनऑर्गनाइज्ड से ऑर्गनाइज्ड रूप में लाने में भी मदद मिली है। जेटली ने विश्व बैंक द्वारा जारी ईज ऑफ डूइंग बिजनेस में भारत के टॉप 100 देशों में आने का भी जिक्र किया। 

 

रीकैपिटलाइजेशन प्लान से सुधरेगी इकोनॉमी 
जेटली ने कहा कि पिछले 3 साल में भारत की विकास की दर 7 से 8 फीसदी रही है। उन्होंने निवेशकों को भारत में मजबूत बैंकिंग क्षेत्र होने का भरोसा भी दिलाया। जेटली ने कहा कि हाल ही में सरकार ने रीकैपिटलाइजेशन की योजना को मंजूर किया था, जिससे इकोनॉमी में तेजी आने की उम्मीद है। इससे बैंकों की क्षमता में सुधार होगा। इससे उनकी लोन ग्रोथ बढ़ने में मदद मिलेगी। बैंकिंग सेक्टर में सुधार इकोनॉमी में ग्रोथ के लिए जरूरी है। जेटली ने कहा कि बैंकों में अतिरिक्त पैसा डाले जाने से बैलेंसशीट मजबूत होगी

 

ग्लोबल इकोनॉमी में आई तेजी 
जेटली ने कहा कि इकोनॉमी अपने निचले स्तर को छू चुकी है और अब इसे ऊपर की ओर बढ़ना चाहिए। ग्लोबल इकोनॉमी में भी ग्रोथ दिख रही है। सम्मेलन के दौरान जेटली ने मॉर्गन स्टैनली के टॉप मैनेजमेंट के साथ भी मुलाकात की और प्रमुख संस्थागत वित्तीय निवेशकों और वरिष्ठ कोष प्रबंधकों को संबोधित किया।

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट