विज्ञापन
Home » Economy » InternationalBad news for Pakistan no oil and gas reserves discovered in Karachi coast

झटका / पाकिस्तान के लिए सबसे बुरी खबर, अरब सागर में नहीं मिला तेल का खजाना

झूठा साबित हुआ इमरान खान का दावा, जैकपॉट लगने की बात कही थी

Bad news for Pakistan no oil and gas reserves discovered in Karachi coast

नई दिल्ली। वित्तीय संकट के बाद महंगाई से जूझ रहे पाकिस्तान की मुश्किलें कम नहीं हो पा रही हैं। अब पाकिस्तान से एक बुरी खबर आ रही है। मीडिया रिपोर्ट्स में कहा जा रहा है कि पाकिस्तान की ओर से अरब सागर में की जा रही कच्चे तेल की खोज बेकार चली गई है। यहां तेल का कोई भंडार नहीं मिला है। रिपोर्ट्स में दावा किया गया है कि रविवार को तेल खोज का काम भी बंद कर दिया गया है। 

पीएम इमरान खान के विशेष सहायक ने की पुष्टि

पेट्रोलियम मामलों के लिए प्रधानमंत्री इमरान खान के विशेष सहायक नदीम बाबर के हवाले से आई खबरों में कहा गया है कि पाकिस्तान के अधिकार क्षेत्र वाले अरब सागर में कराची के पास 5500 मीटर की गहराई तक तेल खोज का कार्य पूरा हो गया है। इस क्षेत्र को केकरा-1 नाम दिया गया है। बाबर के हवाले से रिपोर्ट्स में कहा गया है कि इस क्षेत्र में तेल या गैस का कोई भंडार नहीं मिला है। बाबर ने कहा है कि डीजी पेट्रोलियम को इस खोज के परिणामों से अवगत करा दिया गया है। इस तेल खोज के कार्य पर करीब 100 मिलियन डॉलर का खर्च आया है।

पीएम इमरान खान ने कही थी जैकपॉट मिलने की बात

इसी साल मार्च में पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने कहा था कि पाकिस्तान को अरब सागर में तेल और गैस का बड़ा भंडार मिलने जा रहा है। इमरान ने दावा किया था कि यह पाकिस्तान के लिए जैकपॉट के समान है और इससे उनके देश की सारी आर्थिक समस्याएं दूर हो जाएंगी। इमरान ने कहा था कि ड्रिलिंग का कार्य जल्द पूरा हो जाएगा। अब यह कार्य पूरा होने पर पाकिस्तान को बड़ी निराशा हाथ लगी है। 

यह कंपनियां कर रही थीं ड्रिलिंग का काम

इटली के अंतरराष्ट्रीय ऑयल एक्सप्लोरेशन कंपनी ईएनआई पाकिस्तान में कराची के पास अरब सागर में तेल और गैस की खोज के लिए ड्रिलिंग का कार्य कर रही थी। इस काम में अमेरिका की बड़ी ऑयल एंड गैस एक्सप्लोरेशन कंपनी एक्जोनमोबिल (ExxonMobil), पाकिस्तान की ऑयल एंड गैस डवलपमेंट कंपनी लिमिटेड और पाकिस्तान पेट्रोलियम लिमिटेड भी सहयोग कर रही थीं। ड्रिलिंग का कार्य कराची कोस्ट से 280 किलोमीटर दूर किया जा रहा था।

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
विज्ञापन
विज्ञापन
Don't Miss