बिज़नेस न्यूज़ » Economy » International10 करोड़ की शराब देकर उतारा बैंक का लोन, 8 करोड़ रुपए थे बकाया

10 करोड़ की शराब देकर उतारा बैंक का लोन, 8 करोड़ रुपए थे बकाया

कर्ज चुकाने के लिए बैंक के बाहर खड़े कर दिए 900 टन शराब से भरे ट्रक

1 of

 

नई दिल्‍ली. जब एक शराब कंपनी बैंक को बकाया कर्ज नहीं लौटा पाई तो उसने बैंक को 900 टन शराब देकर अपना कर्ज उतारा। यह वाकया, साउथ वेस्‍ट चीन के सिचुआन इलाके का है। यहां की एक शराब कंपनी पर बैंक का 80 लाख युआन ( 8 करोड़ रुपए) कर्ज थाकंपनी पर जब कर्ज चुकाने का दबाव बना तो उसने अपने स्‍टॉक में रखी लगभग 900 टन शराब बैंक को सौंप दी और ऐसा करके उसने अपना कर्ज खत्म कर लिया।

 

दो साल तक कोर्ट में चली सुनवाई

साल 2016 के अंत में जब बैंक ने अपने कर्ज का ब्‍यौरा फाइल किया तो पता चला कि एक शराब कंपनी पर कर्ज लगातार बढ़ता जा रहा है और कंपनी कर्ज नहीं चुका रही है। बैंक ने उस कंपनी के खिलाफ अदालत में मामला दायर कर दिया और लगभग दो साल की सुनवाई के बाद कोर्ट ने कंपनी को दोषी ठहराते हुए जल्‍द से जल्‍द कर्ज लौटाने के आदेश दिए। साथ ही, कर्ज न चुकाने पर अदालत ने कंपनी से जुड़ी 4 शराब कंपनियों को नीलाम करने के आदेश दिए। कंपनी पर 8 करोड़ रुपए का कर्ज था, जबकि ब्‍याज बढ़ता जा रहा था।

 

 

बैंक को सौंपी 9.95 करोड़ रुपए की शराब

बैंक के आदेश के बावजूद कोई भी शराब कंपनी को खरीदने के लिए तैयार नहीं हुआ तो बैंक ने फिर से कंपनी पर दबाव बनाना शुरू कर दिया। आखिरकार कंपनी ने बैंक से कहा कि उनके स्‍टॉक में लगभग 900 टन शराब है, जिसे वे अपने कब्‍जे में ले सकते हैं। काफी सोच विचार के बाद बैंक ने शराब अपने कब्‍जे में लेने के लिए हामी भर दी, जिसका कुल मूल्‍य लगभग 9.94 मिलियन युआन ( लगभग 9 करोड़ 95 लाख रुपए) है।

 

आगे पढ़ें : बैंक तक पहुंचाई गई शराब

 

 

बैंक तक पहुंचाई गई शराब

स्‍थानीय मीडिया रिपोर्ट के मुताबिकयह 900 टन शराब फिजिकली बैंक तक ट्रांसपोर्ट के जरिए पहुंचाई गई। इसके बाद बैंक ने शराब कंपनी का सारा लोन राइट-ऑफ कर दिया।

 

आगे पढ़ें : चीन में बढ़ रहा है शराब का सेवन 

 

 

 

चीन में बढ़ रहा है शराब का सेवन

रिपोर्ट्स के मुताबिकचीन में लगातार शराब का सेवन बढ़ रहा है। बाइजियू शराब की चीन में ही नहींबल्कि दुनिया भर में प्रसिद्ध है। जैसे-जैसे चीन की इकोनॉमी में ग्रोथ हो रही हैवैसे-वैसे शराब की खपत भी बढ़ रही है। डब्‍ल्‍यूएचओ और लेसेंट की रिपोर्ट के मुताबिकचीन में शराब की प्रति व्‍यक्ति खपत 4.9 लीटर सालाना से बढ़कर 6.7 लीटर तक पहुंच गई है।

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट