Advertisement
Home » इकोनॉमी » इंटरनेशनलUS tells India and others to end oil imports from Iran by Nov 4

4 नवंबर तक ईरान से ऑयल इंपोर्ट बंद करें भारत-चीन, US ने दी चेतावनी

अमेरिका ने भारत से 4 नवंबर तक ईरान से तेल का इंपोर्ट खत्म करने या प्रतिबंधों का सामना करने के लिए तैयार रहने को कहा है।

US tells India and others to end oil imports from Iran by Nov 4

 

वाशिंगटन. अमेरिका ने भारत और अन्य देशों से 4 नवंबर तक ईरान से तेल का इंपोर्ट खत्म करने या प्रतिबंधों का सामना करने के लिए तैयार रहने को कहा है। इस प्रकार अमेरिका ने स्पष्ट कर दिया कि किसी भी देश को इससे छूट नहीं दी जाएगी।

भारत के लिए इराक और सऊदी अरब के बाद ईरान तीसरा बड़ा तेल का सप्लायर है। ईरान ने अप्रैल, 2017 से जनवरी, 2018 (वित्त वर्ष 2017-18 के शुरुआती 10 महीनों) के बीच 1.84 करोड़ टन क्रूड ऑयल की सप्लाई की थी।

 

 

पिछले महीने अमेरिका ने ईरान पर लगाए प्रतिबंध

बीते महीने डोनाल्ड ट्रम्प ने ईरान न्यूक्लियर डील से अमेरिका के पीछे हटने का ऐलान किया था और अमेरिकी प्रतिबंधों को ईरान पर फिर से लागू कर दिया था। इन प्रतिबंधों को तेहरान न्यूक्लियर प्रोग्राम पर रोक लगने के बाद सस्पेंड कर दिया गया था।

Advertisement

 

 

दूसरे देशों पर बनाया प्रेशर

ट्रम्प सरकार ने ईरान के साथ कमर्शियल एक्टिविटी के आधार पर विदेशी कंपनियों को कारोबार बंद करने के लिए 90 या 180 दिनों का वक्त दिया है। वाशिंगटन अब भारत और चीन सहित सभी देशों पर ईरान से तेल खरीद बंद करने के लिए दबाव बना रहा है।

 

 

भारत-चीन को भी किया आगाह

क्या अमेरिका ने भारत और चीन सहित सभी देशों से 4 नवंबर तक ईरान से इंपोर्ट बंद करने के लिए कह दिया है, इस सवाल पर अमेरिकी सरकार के एक अधिकारी ने कहा, ‘हां, यकीनन भारत और चीन से भी।’ अमेरिकी अधिकारी ने कहा कि यह बात दूसरे देशों की तरह भारत और चीन की कंपनियों पर भी लागू होगी। एनर्जी की भारी जरूरतों को देखते हुए भारत और चीन बड़ी मात्रा में ईरान से तेल का इंपोर्ट करते हैं।

Advertisement

 

 

2015 से पहले भी लागू थे ये प्रतिबंध

अधिकारी ने कहा, ‘उनकी (भारत और चीन की) कंपनियां भी दूसरों की तरह प्रतिबंधों से बंधी रहेंगी, अगर वे प्रतिबंधित क्षेत्रों में काम करती हैं। ये प्रतिबंध 2015 से पहले लागू थे।’ नाम जाहिर नहीं करने की शर्त पर अमेरिकी अधिकारी ने कहा, ‘हम निश्चित तौर पर अनुरोध कर रहे हैं कि ईरान के साथ ऑयल इंपोर्ट खत्म कर दिया जाए।’

Advertisement

अधिकारी ने कहा, ‘हमारी नजर में राष्ट्रीय सुरक्षा हमारी पहली प्राथमिकता है।’

 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
Advertisement