Home » Economy » InternationalUS sanctions on Iran come into force

ईरान के खिलाफ अमेरिकी प्रतिबंध लागू, लेकिन भारत पर फिलहाल नहीं होगा असर

अमेरिका ने इसे ईरान के खिलाफ अब तक की सबसे बड़ी कार्रवाई बताया।

US sanctions on Iran come into force

 

नई दिल्ली. सोमवार से ईरान के खिलाफ अमेरिकी प्रतिबंध (US Sanction) पूरी तरह से लागू हो गए हैं। ये प्रतिबंध ईरान के तेल और उसके फाइनेंशियल सेक्टर्स पर लगाए गए हैं। अमेरिका ने इसे ईरान के खिलाफ अब तक की उसकी सबसे बड़ी कार्रवाई करार दिया है। हालांकि फिलहाल भारत पर इसका असर नहीं पड़ेगा, क्योंकि अमेरिका ने भारत, चीन सहित 8 देशों को ईरान से तेल खरीदने की छूट दे दी है।

 

 

ईरान के साथ बिजनेस करने वाली कंपनियों को लगेगा झटका

ईरान के साथ हुई न्यूक्लियर डील से अमेरिका इस साल मई में पीछे हट गया था। हालांकि इसके ठोस नतीजे अभी तक नहीं मिल सके हैं। माना जा रहा है कि इससे उन कंपनियों पर असर पड़ेगा जो ईरान के साथ खासा बिजनेस करती हैं। इन प्रतिबंधों के लागू होने से ग्लोबल ऑयल मार्केट को भी झटका लग सकता है, हालांकि अमेरिका ने भारत, चीन सहित 8 देशों को ईरान से तेल इंपोर्ट करने की छूट दे दी है।

 

 

ईरान पर रहेंगी सभी की नजर

अमेरिका के सेक्रेटरी ऑफ स्टेट माइक पोम्पियो ने कहा, ‘आतंक शासित ईरान को अपने काम करने के तौर-तरीकों में बदलाव करना चाहिए।’ प्रतिबंध लागू होने से ऑयल मार्केट अलर्ट है। एनर्जी आस्पेक्ट्स से जुडे़ एक एनालिस्ट रिकार्डो फैबियानी ने कहा, ‘सभी की नजरें ईरान से होने वाले एक्सपोर्ट पर रहेंगी कि क्या अमेरिकी प्रतिबंधों को गच्चा देगा। साथ ही ईरान का प्रोडक्शन कैसे गिरता है।’

 

 

ईरान की इनकम का मुख्य स्रोत है तेल

गौरतलब है कि तेल ईरान की इनकम का मुख्य स्रोत है। लेकिन वह ओपेक का तीसरा बड़ा ऑयल प्रोड्यूसर भी है। अमेरिकी प्रतिबंधों का असर ईरान पर दिखने लगा है और उसकी करंसी रियाल मई के बाद से दो-तिहाई से ज्यादा कमजोर हो चुकी है।

वहीं ईरान का ऑयल एक्सपोर्ट 10 लाख बैरल प्रति दिन से नीचे आ चुका है, हालांकि भारत और चीन अभी तक उससे तेल की खरीद कर रहे हैं। हालांकि, जापान और साउथ कोरिया के साथ ही अधिकांश यूरोपीय देश ने ईरान से तेल इंपोर्ट बंद कर चुके हैं।

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट