विज्ञापन
Home » Economy » InternationalUK Court rejects VijayMallya's appeal against extradition

विजय माल्या को बड़ा झटका, प्रत्यर्पण के खिलाफ यूके कोर्ट ने खारिज की अपील

यूके की हाई कोर्ट ने Vijay Mallya को तगड़ा झटका दिया है।

UK Court rejects VijayMallya's appeal against extradition

यूके की हाई कोर्ट ने विजय माल्या (Vijay Mallya) को तगड़ा झटका दिया है। कोर्ट ने प्रत्यर्पण के खिलाफ विजय माल्या की याचिको का खारिज कर दिया। माल्या के पास अब सुप्रीम कोर्ट में अपील करने का ऑप्शन है, जिसमें कम से कम 6 हफ्ते लग सकते हैं।

 

नई दिल्ली. यूके की हाई कोर्ट ने विजय माल्या (Vijay Mallya) को तगड़ा झटका दिया है। कोर्ट ने प्रत्यर्पण के खिलाफ विजय माल्या की याचिका को खारिज कर दिया। माल्या के पास अब सुप्रीम कोर्ट में अपील करने का ऑप्शन है, जिसमें कम से कम 6 हफ्ते लग सकते हैं। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, हाईकोर्ट ने बीती 5 अप्रैल को माल्या की याचिका पर सुनवाई की थी।

गौरतलब है कि माल्या को फ्रॉड, मनी लॉन्ड्रिंग और फॉरेन एक्सचेंज मैनेजमेंट एक्ट (FEMA) के उल्लंघन का सामना करना पड़ रहा है। माल्या ने भारत को अपने प्रत्यर्पण के खिलाफ हाईकोर्ट में याचिका दायर की थी। 
9 दिसंबर को वेस्टमिंस्टर कोर्ट ने सीबीआई और ईडी के आरोपों पर माल्या के प्रत्यर्पण का आदेश दिया था। माल्या पर भारतीय बैंकों का लगभग 9 हजार करोड़ रुपए बकाया है।

 

फिर से अपील के लिए 5 दिन का समय 

यूके कोर्ट के एक प्रवक्ता ने बताया कि कोर्ट ने विजय माल्या को प्रत्यर्पण के खिलाफ अपील करने की अनुमति नहीं दी। उन्होंने बताया, 'जस्टिस विलियम डेविस ने 5 अप्रैल को प्रत्यर्पण के खिलाफ अपील करने की अनुमति देने के उनके अनरोध को खारिज कर दिया।' प्रवक्ता ने कहा कि याचिकाकर्ता के पास मौखिक विचार के लिए अप्लाई करने को 5 दिन हैं। अगर फिर से कोई आवेदन किया जाता है तो हाई कोर्ट के जज के सामने जाएगा। 

 

अब होगी मौखिक सुनवाई

ब्रिटिश कानून के मुताबिक पुनर्विचार प्रक्रिया में मौखिक सुनवाई होगी, जिसमें माल्या और भारत सरकार की तरफ से मौजूद टीमों की तरफ से दलीलें रखी जाएंगी। इसके बाद जज यह फैसला लेंगे कि इस पर पूर्ण सुनवाई की जरूरत है या नहीं। गौरतलब है कि माल्या मार्च 2016 से यूके में हैं और अप्रैल 2017 में प्रत्यर्पण वारंट जारी होने के बाद से वह बेल पर हैं। 
 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
विज्ञापन
विज्ञापन
Don't Miss