Home » Economy » InternationalTrump renews China tariff threats ahead of meeting with Xi

मीटिंग से पहले ही ट्रम्प की चीन को धमकी, नाकाम हुई बातचीत तो लगाएंगे टैक्स

अमेरिकी राष्ट्रपति ने कहा-14 लाख करोड़ के चीनी इम्पोर्ट पर लगा सकते हैं टैरिफ

1 of

 

वाशिंगटन. US – China Meet: अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प (Donald Trump) ने कहा कि वह जल्द ही 200 अरब डॉलर (14 लाख करोड़ रुपए) के चीनी इम्पोर्ट पर टैरिफ बढ़ाकर 25 फीसदी कर सकते हैं, जो फिलहाल 10 फीसदी है। ट्रम्प ने धमकी दी कि अगर चीन के साथ ट्रेड पर बातचीत सकारात्मक नहीं रहती है तो वहां से आने वाले बाकी इम्पोर्ट पर टैरिफ लगा दिया जाएगा।

 

इसी हफ्ते होनी है ट्रम्प और जिनपिंग की मीटिंग

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, ट्रम्प का बयान इसलिए भी खासा अहम है क्योंकि अर्जेंटीना में इस हफ्ते होने वाली जी20 समिट से इतर उनकी चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग से मुलाकात होने की अनुमान है। माना जा रहा है कि दोनों लीडर्स के बीच ट्रेड डील पर बातचीत होने का अनुमान है। ट्रम्प ने कहा कि अगर बातचीत अमेरिका के लिए पॉजिटिव नहीं रही तो वह बाकी चीनी इम्पोर्ट पर भी टैरिफ लगाएंगे, जिन पर अभी तक कोई ड्यूटी नहीं लगती है।

 

इस बार ढाई गुना बढ़ेगा टैरिफ

वाल स्ट्रीट जर्नल की रिपोर्ट के मुताबिक, अमेरिकी राष्ट्रपति ने कहा कि टैरिफ में प्रस्तावित बढ़ोत्तरी को टालने के चीन के अनुरोध पर उनके राजी होने की उम्मीद बेहद कम है। डोनाल्ड ट्रम्प ने कहा, ‘अगर हमारे बीच कोई डील नहीं होती है तो समझ लीजिए कि मैं 267 अरब डॉलर के अतिरिक्त इम्पोर्ट पर टैरिफ लगाने जा रहा हूं। इस बार यह टैरिफ 10 फीसदी नहीं बल्कि 25 फीसदी होगा।’

आगे पढ़ें - चीन से आने वाले आईफोन और लैपटॉप पर भी लगेगा टैरिफ

 

यह भी पढ़ें-भारत का बजा डंका तो बौखला गया चीन, मालदीव पर फोड़ा 23 हजार करोड़ का बम

 

चीन से आने वाले आईफोन और लैपटॉप पर भी लगेगा टैरिफ

उन्होंने कहा कि चीन से इम्पोर्ट होने वाले आईफोन और लैपटॉप कम्प्यूर्स पर भी टैरिफ लगाया जा सकता है। उन्होंने कहा, ‘अमेरिका को चीन को चोरी से क्यों नहीं रोकना चाहिए? क्या हमारे लोगों ने ऐसा होने दिया? और क्या राष्ट्रपति ओबामा या पूर्ववर्ती राष्ट्रपतियों ने ऐसा होने दिया? आप जानते हैं कि हमने उनके साथ कोई डील नहीं की है। वे वही करते हैं जो वे चाहते हैं।’

आगे पढ़ें - हर साल अमेरिका को होता है 375 अरब डॉलर का ट्रेड घाटा

 

 

हर साल अमेरिका को होता है 375 अरब डॉलर का ट्रेड घाटा

ट्रम्प ने कहा कि चीन के साथ ट्रेड एक भयावह एकतरफा रास्ता है, जिसमें सालाना न्यूनतम 375 अरब डॉलर का घाटा होता है। उन्होंने कहा, ‘वास्तव में हमने ट्रेड में होने वाले नुकसान के माध्यम से चीन के पुनर्निर्माण में मदद की है और मैं एक साल पहले ही यह फैसला लिया है कि मैं ऐसा नहीं करूंगा।’

 

 
prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट