Mirage 2000 की स्पीड के सामने राफेल भी मांगता है पानी, यूं ही नहीं भारत ने किया यूज

इंडियन एयरफोर्स (indian air force) ने मंगलवार की सुबह पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर (POK) में सर्जिकल स्ट्राइक करके समूचे पाकिस्तान को दहला दिया। एयरफोर्स ने इसके लिए खास तौर पर लगभग 4 दशक पहले फ्रांस की दशॉ एविएशन (Dassault Aviation) से खरीदे गए मिराज 2000 (Mirage 2000) का इस्तेमाल किया। 

moneybhaskar

Feb 26,2019 03:35:00 PM IST


नई दिल्ली. इंडियन एयरफोर्स (indian air force) ने मंगलवार की सुबह पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर (POK) में सर्जिकल स्ट्राइक करके समूचे पाकिस्तान को दहला दिया। एयरफोर्स ने इसके लिए खास तौर पर लगभग 4 दशक पहले फ्रांस की दशॉ एविएशन (Dassault Aviation) से खरीदे गए मिराज 2000 (Mirage 2000) का इस्तेमाल किया। हालांकि इससे चुनने की खास वजह है, क्योंकि मौजूदा वक्त में मिराज 2000 (Mirage 2000) भारत का सबसे तेज फाइटर प्लेन है। दिलचस्प है कि इस प्लेन की रफ्तार हाल में ही फ्रांस से खरीदे गए राफेल (rafel) से भी कहीं ज्यादा है। moneybhaskar इंडियन एयरफोर्स (indian air force) के हवा से बातें करने वाले टॉप 5 फाइटर प्लेन्स के बारे में बता रहा है।

1. मिराज 2000 (Mirage 2000)

कंपनी-Dassault Aviation, फ्रांस
कब खरीदा-1982
स्पीड-लगभग 2495 किमी प्रति घंटा

मिराज 2000 (Mirage 2000) मल्टीरोल 4th जेनरेशन का फाइटर जेट है। भारत सरकार ने 1980 से 90 के दशक में फ्रांस से 49 मिराज 2000 (Mirage 2000) खरीदे थे। वर्ष 2004 में सरकार ने 10 अन्य मिराज 2000 (Mirage 2000) खरीदे जाने को मंजूरी दी थी। भले ही यह पुराना हो चुका है, फिर भी इसे इंडियन एयरफोर्स के ताकतवर जेट्स में गिना जाता है।

यह भी पढ़ें-इन 5 चीजों के लिए भारत पर डिपेंड है पाकिस्तान, फिर भी दुनिया में दिखाता है अकड़

2. मिग - 29 (Mig-29)

 

कंपनी-Mikoyan Mig-29, सोवियत यूनियन
कब खरीदा-1980 के दशक में
स्पीड-लगभग 2400 किमी प्रति घंटा

 

सोवियत यूनियन के फाइटर प्लेन मिग-29 (Mig-29) के लिए इंडियन एयरफोर्स पहली अंतरराष्ट्रीय खरीददार थी। 1999 के कारगिर युद्ध के दौरान इसका खूब इस्तेमाल किया गया था। इसकी अधिकतम स्पीड 2400 किमी प्रति घंटा है। इसे अभी भी भारत के सबसे तेज विमानों में गिना जाता है।

 

 

3.सुखोई (Sukhoi Su-30MKI)

 

कंपनी- Sukhoi Design Bureau, रूस
कब खरीदा-2002 से खरीदने की शुरुआत
स्पीड-लगभग 2100 किमी प्रति घंटा

 

रूसी कंपनी सुखोई और भारत की हिंदुस्तान एयरोनॉटिक्स लिमिटेड (HAL) के सहयोग से बनाए गए इस विमान को सबसे पहले वर्ष 2002 में इंडियन एयरफोर्स में शामिल किया गया था। वर्ष 2009 तक इंडियन एयरफोर्स में 105 .सुखोई (Sukhoi Su-30MKI) शामिल हो चुके थे। इसकी खास बात यह है कि यह विमान 3000 किमी दूर जाकर भी हमला करने में सक्षम है।

 

 
4.दशॉ राफेल (Dassault Rafale)

 

कंपनी- Dassault Aviation, फ्रांस
कब खरीदा-2018 
स्पीड-लगभग 1920 किमी प्रति घंटा

 

राफेल (Dassault Rafale) फ्रांस की कंपनी Dassault Aviation द्वारा विकसित किया गया ट्विन इंजन मल्टीरोल फाइटर एयरक्राफ्ट है। इसमें Meteor BVRAAM मिसाइलें भी लगी हुई हैं। हाल में इंडियन एयरफोर्स को 2 राफेल विमान मिले हैं।

 

 
5. एचएएल तेजस (HAL Tejas)

 

कंपनी- Hindustan Aeronautics Limited (HAL) 
कब -2019 (वायुसेना में हुआ शामिल) 
स्पीड-लगभग 1920 किमी प्रति घंटा

 

पहला स्वदेशी लड़ाकू विमान तेजस को हाल में औपचारिक रूप से भारतीय वायु सेना में शामिल किए जाने को मंजूरी दी गई है। हाल में बेंगलुरु में हुए एयरो इंडिया शो में भी तेजस ने उड़ान भरी थी। फिलहाल 123 विमानों को एफओए दी गई है। ये सभी विमान देश में बने हैं और इनका निर्माण हिंदुस्तान एयरोनॉटिक्स लिमिटेड ने किया है। बीते साल ही तेजस में पहली बार हवा में उड़ान के दौरान ईंधन भरा गया था। इस तरह भारत उन देशों के विशिष्ट समूह में शामिल हो गया था, जिसके पास सैन्य विमानों के लिए हवा में उड़ान के दौरान ईंधन भरने की प्रणाली है।

X
COMMENT

Money Bhaskar में आपका स्वागत है |

दिनभर की बड़ी खबरें जानने के लिए Allow करे..

Disclaimer:- Money Bhaskar has taken full care in researching and producing content for the portal. However, views expressed here are that of individual analysts. Money Bhaskar does not take responsibility for any gain or loss made on recommendations of analysts. Please consult your financial advisers before investing.