बिज़नेस न्यूज़ » Economy » Internationalतेल की कमाई अटकने से बौखलाया ईरान, नॉर्थ कोरिया से कहा-भरोसे के लायक नहीं अमेरिका

तेल की कमाई अटकने से बौखलाया ईरान, नॉर्थ कोरिया से कहा-भरोसे के लायक नहीं अमेरिका

अब ईरान ने चला नॉर्थ कोरिया को उकसाने का दांव

president of Iran Rouhani tells North Korea US can not be trusted

 

तेहरान. अमेरिकी प्रतिबंधों के बाद तेल से होने वाली कमाई अटकती देखकर ईरान बुरी तरह बौखला गया है। अब उसने ऐसा दांव चला है, जिससे अमेरिका का बड़ा प्लान फेल हो सकता है। दरअसल ईरान ने अब नॉर्थ कोरिया को भड़काना शुरू कर दिया है। ईरान ने नॉर्थ कोरिया से कहा कि अमेरिका पर भरोसा नहीं किया जा सकता है। ईरान का यह दांव इसलिए भी अहम है, क्योंकि अमेरिका न्यूक्लियर और मिसाइल प्रोग्राम को लेकर नॉर्थ कोरिया के साथ समझौते की योजना पर काम कर रहा है।

 

 

अमेरिका से बातचीत करने से ईरान ने किया इनकार

गौरतलब है कि ईरान ने इस हफ्ते अंतिम क्षणों में अमेरिका के ऑफर को यह कहते हुए खारिज कर दिया कि ईरान अपने न्यूक्लियर प्रोग्राम पर रोक लगाने के लिए 2015 में हुई डील से ट्रम्प एडमिनिस्ट्रेशन के मुकरने के बाद अब बातचीत नहीं की जा सकती है। अमेरिका द्वारा ईरान पर फिर से प्रतिबंध लगाने के बाद हाल में नॉर्थ कोरिया के टॉप डिप्लोमैट री योन्ग ने हाल में वहां का दौरा किया था।

 

 

बेईमान और गैर भरोसेमंद है अमेरिकाः ईरान

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, ईरान के राष्ट्रपति हसन रूहानी ने कहा, ‘इन वर्षों के दौरान अमेरिकी सरकार के कामकाज को देखते हुए उसे दुनिया भर में बेईमान और गैर भरोसेमंद देश के तौर पर देखा जा रहा है, जो अपने किसी वादे को पूरा नहीं करता है।’

उन्होंने कहा, ‘मौजूदा हालात में, मित्र देशों को अंतरराष्ट्रीय समुदाय से अपने संबंध और भागीदारी को बढ़ाना चाहिए।’ उन्होंने कहा कि कई मुद्दों पर ईरान और नॉर्थ कोरिया के बीच हमेशा से नजदीकियां रही हैं।

 

 

ईरान पहुंचे नॉर्थ कोरिया के टॉप डिप्लोमैट

नॉर्थ कोरिया के टॉप डिप्लोमैट सिंगापुर में एक सिक्युरिटी फोरम में भाग लेने के बाद तेहरान की विजिट पर पहुंचे, जहां उनके और यूएस सेक्रेटरी ऑफ स्टेट माइक पोम्पिओ के बीच जून में ट्रम्प और नॉर्थ कोरियाई लीडर किम जोन्ग उन के बीच हुई चर्चित समिट के दौरान हुए एग्रीमेंट को लेकर विवाद हो गया था।

समिट के दौरान दोनों ही देश नॉर्थ कोरिया के डिन्यूक्लियराइजेशन को लेकर उत्साहित थे, लेकिन डील के लक्ष्य को हासिल करने के लिए डील अभी तक नहीं हो सकी है।

   


 
prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट