विज्ञापन
Home » Economy » InternationalPakistan depends on India for these 5 things

इन 5 चीजों के लिए भारत पर डिपेंड है पाकिस्तान, फिर भी दुनिया में दिखाता है अकड़

पुलवामा अटैक की आंच से झुलसेगा व्यापार, बढ़ेगी पाक की मुश्किल

1 of

नई दिल्‍ली. भारत और पाकिस्‍तान के बीच रिश्‍ते हमेशा से तनाव भरे रहे हैं, लेकिन पुलवामा आतंकी हमले (Pulwama Attack) के बाद हालात कुछ ज्यादा ही बिगड़ गए हैं। ऐसे में इस टेंशन की गर्मी कारोबार के मोर्चे पर भी पड़नी शुरू हो गई है। भारत सरकार ने पाकिस्तान से मोस्ट फेवर्ड नेशन (most-favoured nation) का दर्जा वापस ले लिया है। दिलचस्प है कि पाकिस्तान भले ही दुनिया में अपनी अकड़ दिखाता रहा है, लेकिन हकीकत में अभी भी बहुत से प्रोडक्‍ट के लिए भारत पर डिपेंड है। तो आइए जानते हैं 5 ऐसी चीजों के बारे में…
 

1. कॉटन

 

यह भी पढ़ें-जिसने दुनिया में जमाई ब्रांड इंडिया की धाक, उस पर अंबानी ने लगाया करोड़ों का दांव

 

2.ऑर्गनिक केमिकल्स

वित्त वर्ष 2018-19 में अप्रैल-नवंबर के दौरान भारत ने पाकिस्तान को 2224 करोड़ रुपए का एक्सपोर्ट किया, जो बीते साल की समान अवधि की तुलना में लगभग 50 फीसदी ज्यादा है। वहीं वित्त वर्ष 2017-18 में यह आंकड़ा 2029 करोड़ रुपए रहा था।

 


 

3. प्लास्टिक और उससे बने समान

2018-19 में भारत ने अप्रैल-नवंबर के दौरान 583 करोड़ रुपए के प्लास्टिक और उससे बने सामान का एक्सपोर्ट किया, जो बीते साल की समान अवधि की तुलना में लगभग 20 फीसदी ज्यादा था। वहीं वित्त वर्ष 2017-18 में यह आंकड़ा 729 करोड़ रुपए रहा था।

 

4.चमड़ा या डाइंग एक्सट्रैक्ट्स, पिगमेंट्स और अन्य कलरिंग मैटर, पेंट, पुट्टी, इंक

इस वित्त वर्ष में अप्रैल-नवंबर के दौरान कलरिंग, पेंट आदि से जुड़े सामान का 510 करोड़ रुपए का एक्सपोर्ट हुआ था, जो एक साल पहले समान अवधि की तुलना में लगभग 25 फीसदी ज्यादा था। वहीं वित्त वर्ष 2017-18 में आंकड़ा 525 करोड़ रुपए रहा था।

 

5.न्यूक्लियर रिएक्टर्स, बॉयलर्स, मशीनरी एंड मैकेनिकल अप्लायंसेज, उनसे जुड़े उपकरण

चालू वित्त वर्ष में अप्रैल-नवंबर के दौरान इन आइटम्स का 413 करोड़ रुपए का एक्सपोर्ट किया गया, जो एक साल पहले समान अवधि की तुलना में लगभग 15 फीसदी ज्यादा था। वहीं वित्त वर्ष 2017-18 में यह आंकड़ा 525 करोड़ रुपए रहा था।


स्रोतः विदेश व्यापार महानिदेशालय (डीजीएफटी)

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
विज्ञापन
विज्ञापन
Don't Miss