Home » Economy » Internationalबड़ी मुसीबत में फंसा पाकिस्तान, चीन से लेना पड़ा 1 अरब डॉलर का कर्ज

बड़ी मुसीबत में फंसा पाकिस्तान, चीन से लेना पड़ा 1 अरब डॉलर का कर्ज

फॉरेन करेंसी क्राइसिस से गुजर रहे पाकिस्‍तान ने चीन के बैंक से 1 अरब डालर का कर्ज लिया है।

1 of
 
इस्‍लामाबाद. फॉरेन करेंसी क्राइसिस से गुजर रहे पाकिस्‍तान ने चीन के बैंक से 1 अरब डालर का कर्ज लिया है। यह कर्ज उसे अप्रैल में दिया गया था। इस कर्ज की ब्‍याज दरों का खुलासा नहीं किया गया है, लेकिन इसे ‘गुड, कम्पेटिटिव रेट’ का बताया गया है। 

 
 
पाकिस्‍तान के गवर्नर ने दी जानकारी
फाइनेंशियल टाइम्‍स के साथ बातचीत में पाकिस्‍तान के स्‍टेट बैंक के गवर्नर तारिक बाजवा ने इस बात को स्‍वीकार किया है। उन्‍होंने कहा है कि यह लोन अच्‍छी ब्‍याज दरों पर मिला गया है। उन्‍होंने कहा कि चीन के साथ पाकिस्‍तान के वित्‍तीय, राजनैतिक सहित नजदीकी सैन्‍य संबंध हैं। बाजवा के अनुसार चीन के कमर्शियल बैंकों के पास बहुत ज्‍यादा लिक्विडिटी है। अखबार के अनुसार इस लोन से पहले भी पाक 1.2 अरब डॉलर का लोन चीन से ले चुका है। 

 
पाकिस्‍तान का विदेश मुद्रा भंडार तेजी से घट रहा
पाकिस्‍तान का विदेशी मुद्रा भंडार तेजी से घट रहा है। यह पिछले साल अप्रैल में 18.1 अरब डालर पर था जो मई में गिरकर 10.8 अरब डालर पर आ गया। अखबार में छपे लेख के अनुसार पाकिस्‍तान के अधिकारियों को आशा है कि चीन के बैंकों की मदद से पाक इंटरनेशनल मॉनिटरिंग फंड (IMF) के पास जाने से बच सकता है। 

 
9 बार IMF के पास जा चुका है पाकिस्‍तान
पाकिस्‍तान 1988 से अभी तक 9 बार IMF के पास वित्‍तीय मदद के लिए जा चुका है। इसमें तीन बार उसे डबल प्रोग्राम के तहत मदद स्‍वीकार की गई थी। इन आंकड़ों के अनुसार पिछले 28 साल में कुल मिलाकर पाकिस्‍तान 12 बार मदद ले चुका है। इनमें से 2000 से लेकर 2010 तक चार बार ही IMF से पूरी मदद मिल पाई थी। बाकी हर बार शर्तें पूरी नहीं हो पाने के चलते मदद बीच में रुक गई थी। 
 
 
पाकिस्‍तान को लोन देना चीन के हित में
पाकिस्‍तान को लोन देना चीन के हित में है। चीन ने पाकिस्‍तान में चीन-पाक इकोनॉमिक काॅरीडोर (CPEC) के लिए काफी लोन दे रखा है, और इस पर भी ब्‍याज दरों का खुलासा नहीं किया गया है। चीन इस प्रजेक्‍ट पर करीब 60 अरब डॉलर का निवेश कर रहा है। 

 
चीन नहीं चाहता पश्चिमी देश CPEC के वित्‍तीय पक्ष को जानें
पाक के अधिकारियों के अनुसार चीन नहीं चाहता कि पश्चिमी देशों के वित्‍तीय संस्‍थान CPEC की फाइनेंसिंग के बारे में ज्‍यादा जानें। वहीं इस अधिकारी के अनुसार IMF से लोन लेने के लिए पाकिस्‍तान को CPEC के बारे में पूरी जानकारी देनी होगी। 
 
prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट