Home » Economy » InternationalF-16 Jet Production in India Will Be Exclusive

भारत में F-16 फाइटर प्‍लेन बनाने को तैयार लॉकहीड मार्टिन, मोदी सरकार को ऑफर

दुनिया के ताकतवर लड़ाकू विमानों में शुमार एफ-16 जेट जल्द ही ‘मेक इन इंडिया’ हो सकता है।

1 of

वाशिंगटन. दुनिया के ताकतवर लड़ाकू विमानों में शुमार एफ-16 जेट जल्द ही ‘मेक इन इंडिया’ हो सकता है। लड़ाकू विमान बनाने वाली दुनिया की लीडिंग कंपनी लॉकहीड मार्टिन ने भारत के सामने यह प्रपोजल रखते हुए कहा कि उसकी भारत में एफ-16 जेट प्रोडक्शन यूनिट स्थापित करने की योजना है, जिससे देश को अपनी ऑपरेशनल जरूरतों के साथ ‘मेक इन इंडिया’ इनीशिएटिव को पूरा करने में मदद मिलेगी।


एफ-16 की प्रोडक्शन लाइन भारत शिफ्ट करने को तैयार कंपनी
इन दिनों भारत एयरफोर्स के लिए नए लड़ाकू विमान जोड़ने की योजना पर काम कर रहा है। ऐसे में अमेरिका की एअरोस्पेस और डिफेंस कंपनी ने एफ-16 की पूरी प्रोडक्शन लाइन को भारत में शिफ्ट करने का ऑफर दिया है। कंपनी ने कहा कि उसकी भारत में एक ‘असेंबली लाइन’ स्थापित करने की भी योजना है।


लॉकहीड मार्टिन के वाइस प्रेसिडेंट (स्ट्रैटजी और बिजनेस डेवलपमेंट) विवेक लाल ने कहा, ‘हमारी अंतरराष्ट्रीय लड़ाकू विमान की मैन्युफैक्चरिंग के क्षेत्र में दो नए शब्द ‘इंडिया’ और ‘एक्सक्लूजिव’ जोड़ने की योजना है। किसी अन्य लड़ाकू विमान मैन्युफैक्चर करने वाली कंपनी ने पूर्व में या वर्तमान में ऐसा कभी नहीं किया।


कॉस्ट के लिहाज से फायदेमंद है एफ-16
भारत को अमेरिकी सैन्य साजोसामान की बिक्री के लिए बड़ी डील्स में अहम भूमिका निभाने वाले लाल ने कहा, ‘एफ-16 भारतीय उद्योग जगत को दुनिया के सबसे बड़े फाइटर एयरक्राफ्ट इकोसिस्टम का केंद्र बनने का मौका देता है।’ लाल ने बीते साल अमेरिका द्वारा भारत को जनरल एटोमिक्स के गार्जियन प्रिडेटर ड्रोन्स की बिक्री की डील कराने में भी अहम भूमिका निभाई थी। एक सवाल के जवाब में लाल ने दावा किया कि लॉकहीड का ऑफर भारत के लिए कॉस्ट के लिहाज से खासा फायदेमंद है।


मेक इन इंडिया को मिलेगा फायदा
उन्होंने दावा किया कि एफ-16 की ऑपरेशन इफेक्टिवनेस और इंडस्ट्रियल सक्सेस की टक्कर में कोई अन्य एयरक्राफ्ट नहीं है। उन्होंने कहा, ‘एफ-16 ऐसा अकेला एयरक्राफ्ट प्रोग्राम है जिसने अपने प्रदर्शन को साबित किया है। साथ ही यह भारत की ऑपरेशन जरूरतों और मेक इन इंडिया की प्राथमिकताओं को पूरा करने में सक्षम है।’ उन्होंने कहा कि एफ-16 दुनिया सबसे ताकतवर अमेरिकी एयरफोर्स की रीढ़ बना हुआ है।

 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट