विज्ञापन
Home » Economy » InternationalIndia will Buy 72,400 Assault Rifles From American Firm To Replace INSAS

मोदी सरकार खरीदेगी 72 हजार राइफल, इंडियन आर्मी की बढ़ेगी ताकत

भारत ने अमेरिकी कंपनी से की 700 करोड़ की डील

1 of

नई दिल्ली. अभी तक आउटडेटेड राइफल और कार्बाइन्स से काम चला रही इंडियन आर्मी की ताकत जल्द बढ़ने जा रही है। दरअसल प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) की अगुआई वाली सरकार ने एक अमेरिकी कंपनी से लगभग 700 करोड़ रुपए की डील की है। इसके तहत इंडियन आर्मी के लिए 72,400 सिग साउर (Sig Sauer) असाल्ट राइफल (assault rifle) खरीदी जाएंगी। इस राइफल को इन दिनों अमेरिका और कई यूरोपीय देशों की सेना द्वारा इस्तेमाल किया जा रहा है।

 

एक साल में पूरी होगी डील

इस फास्ट ट्रैक सौदे के लिए भारत सरकार ने अमेरिका की एक कंपनी सिग साउर  (Sig Sauer) के साथ करार किया है। इसके तहत भारत 7.66 एमएम की 72,400 राइफल खरीदी जाएंगी। यह डील एक साल के भीतर पूरी हो जाएगी। इन राइफलों पर लगभग 700 करोड़ रुपए की कॉस्ट आएगी। यह सौदा इसलिए भी अहम हो जाता है कि पुलवामा में आतंकी हमले (Plwaka Attack) के बाद भारत-पाकिस्तान बॉर्डर पर तनाव बढ़ा हुआ है।

 

 


 

 

इस्तेमाल में आसान है असॉल्ट राइफल

इंडियन आर्मी पर फिलहाल 5.56x45 एमएम इन्सास राइफल (INSAS Rifle) इस्तेमाल कर रही है। सूत्रों ने कहा कि इन्सास राइफलों को असॉल्ट राइफलों (assault rifle) के साथ बदलने की जरूरत है। असॉल्ट राइफल (assault rifle) कॉम्पैक्ट, दमदार और आधुनिक तकनीक से युक्त हैं। जंग के मैदान में इन्हें उपयोग करना खासा आसान है।
हाल में डिफेंस मिनिस्टर निर्मला सीतारमण ने सिग साउर (Sig Sauer rifles) राइफलों को खरीदने की मंजूरी दी थी। सूत्रों के मुताबिक, इन राइफलों को चीन से लगे 3,600 किलोमीटर लंबे बॉर्डर पर इस्तेमाल किया जाएगा।

 

 

 

आर्मी खरीदेगी 7 लाख राइफल

अक्टूबर, 2017 में आर्मी ने 7 लाख राइफल, 44 हजार लाइट मशीन गन (LMGs) और लगभग 44600 कार्बाइन खरीदने की प्रक्रिया शुरू की थी। लगभग 18 महीने पहले आर्मी ने सरकार के स्वामित्व वाली राइफल फैक्ट्री, ईशापुर में बनाई गई असाल्ट राइफल को खारिज कर दिया था। खबरों के मुताबिक, फायरिंग टेस्ट में फेल होने के बाद यह फैसला लिया गया था। इसके बाद से ही आर्मी ग्लोबल मार्केट में राइफल की तलाश कर रही थी।

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
विज्ञापन
विज्ञापन