Home » Economy » InternationalIndia seeks MH 60 Romeo Seahawk helicopters from US

दुनिया का सबसे एडवांस हेलिकॉप्टर खरीदेगा भारत, समुद्र में रोकेगा चीन की राह

MH 60 Romeo Seahawk: अमेरिका से 14 हजार करोड़ में हो सकती है डील

1 of

वाशिंगटन. हिंद महासागर में चीन के आक्रामक रुख को देखते हुए भारत जल्द ही दुनिया के सबसे एडवांस माने जाने एंटी सबमैरीन हेलिकॉप्टर मल्टी-रोल एमएच-60 ‘रोमियो’ (MH 60 Romeo Seahawk helicopters) खरीदने जा रहा है। भारत ने अमेरिका से ऐसे 24 हेलिकॉप्टर खरीदने की इच्छा जाहिर की है। भारत के लिए यह डील इसलिए भी अहम है, क्योंकि मालदीव, श्रीलंका जैसे पड़ोसी देशों के सहारे चीन हिंद महासागर में लगातार दखल देने की कोशिश कर रहा है।

 

बढ़ेगी भारत की मारक क्षमता

इंडस्ट्री एक्सपर्ट्स के मुताबिक, यह मौजूदा दौर में फ्रिगेट, डिस्ट्रॉयर्स, क्रूजर्स और एयरक्राफ्ट कैरियर्स से ऑपरेट होने वाला सबसे ज्यादा सक्षम नेवल हेलिकॉप्टर है। एमएच-60 रोमियो सीहॉक्स से भारतीय नेवी की मारक क्षमता खासी बढ़ जाएगी। एक्सपर्ट्स के मुताबिक, हिंद महासागर में चीन के आक्रामक रुख को देखते हुए इंडियन नेवी को ऐसे हेलिकॉप्टर की खासी जरूरत है।

 

14 हजार करोड़ रु में हो सकती है डील

अमेरिका की डिफेंस इंडस्ट्री के सूत्रों ने कहा कि भारत ये हेलिकॉप्टर अपनी नेवी के लिए खरीदना चाहता है और यह डील 2 अरब डॉलर (14 हजार करोड़ रुपए) में होने का अनुमान है। भारत को एक दशक से ज्यादा समय से ऐसे मारक एंटी-सबमैरीन हंटर हेलिकॉप्टरों की जरूरत है।

 

आगे पढ़ें-आपात जरूरत के तौर पर भारत ने किया अनुरोध

 

 

 

आपात जरूरत के तौर पर भारत ने किया अनुरोध

सूत्रों के मुताबिक, हाल में सिंगापुर में हुई रीजनल समिट से इतर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और अमेरिका के वाइस प्रेसिडेंट माइक पेंस के बीच मीटिंग खासी सफल रही। माना जा रहा है कि कुछ महीनों के भीतर इस डील को अंतिम रूप दिया जा सकता है। सूत्रों ने कहा कि भारत ने अमेरिका को भेजे लेटर में 24 मल्टी रोल हेलिकॉप्टर एमएच 60 रोमियो सीहॉक के लिए ‘आपात जरूरत’ के तौर पर अनुरोध किया।

 

भारत-अमेरिका के बीच डिफेंस रिलेशन हुए हैं मजबूत

ट्रम्प सरकार द्वारा भारत की डिफेंस जरूरतों के लिए हाई-टेक मिलिट्री हार्डवेयर को खोले जाने से हाल के महीनों में दोनों देशों के बीच डिफेंस समझौतों में खासी तेजी आई है। मोदी-पेंस के बीच बुधवार को सिंगापुर में हुई मीटिंग के एजेंडे में बाईलेटरल डिफेंस रिलेशन टॉप पर रहे।

इस मीटिंग को 30 नवंबर और 1 दिसंबर को जी-20 मीटिंग के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प के बीच होने वाली मीटिंग से पहले तैयारियों के तौर पर देखा जा रहा है। हालांकि दोनों ही देशों ने इस मीटिंग की पुष्टि नहीं की है।

आगे पढ़ें-भारत में ऐसे 123 हेलिकॉप्टर बनाने की योजना

 

 

 

भारत में ऐसे 123 हेलिकॉप्टर बनाने की योजना

सूत्रों के मुताबिक, एमएच-60 रोमियो डील में ऑफसेट जरूरत होने का अनुमान है। सूत्रों ने संकेत दिया कि इस डील के बाद भारत की देश के भीतर ही ऐसे 123 हेलिकॉप्टर बनाने की भी योजना है।

 

लॉकहीड मार्टिन बनाती है यह हेलिकॉप्टर

लॉकहीड मार्टिन के एमएच-60आर सीहॉक हेलिकॉप्टर को दुनिया सबसे ज्यादा एडवांस मैरीटाइम हेलिकॉप्टर माना जाता है। इसका इस्तेमाल फिलहाल अमेरिकी नेवी खुले समुद्र और तटीय क्षेत्रों के लिए प्राइमरी एंटी-सबमैरीन वारफेयर एंटी-सर्फेस वीपन सिस्टम के तौर पर इस्तेमाल करती है।

 
prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट