Advertisement
Home » Economy » InternationalIndia says jeweler Choksi still a citizen, pushing for Antigua extradition

मेहुल चौकसी अभी तक भारतीय नागरिक, प्रत्यर्पण के लिए एंटीगुआ पर बनाया प्रेशर

मेहुल चौकसी (Mehul Choksi) एंटीगुआ और बरबूडा का पासपोर्ट होने के बावजूद अभी तक भारतीय नागरिक हैं।

India says jeweler Choksi still a citizen, pushing for Antigua extradition

 

जॉर्जटाउन. भारत के सबसे बड़े बैंक फ्रॉड केस में मुख्य आरोपी और भगोड़े ज्वैलर मेहुल चौकसी (Mehul Choksi) एंटीगुआ और बरबूडा का पासपोर्ट होने के बावजूद अभी तक भारतीय नागरिक हैं। रॉयटर्स की एक रिपोर्ट के मुताबिक एक भारतीय अधिकारी ने यह जानकारी देते हुए कहा कि सरकार अभी भी उनके प्रत्यर्पण (extradition) के लिए दबाव बना रही है।

चुनाव से पहले चौकसी को वापस लाने की तैयारी

2 अरब डॉलर के पंजाब नेशनल बैंक (Punjab National Bank) फ्रॉड के मुख्य आरोपियों में से एक चौकसी बीते साल यह स्कैम सामने आने से पहले ही भारत से भाग चुका था। चौकसी को भारत वापस लाना प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के लिए अच्छा होगा, क्योंकि इससे वह मई में होने वाले आम चुनाव से पहले वह इसे करप्शन के खिलाफ अपनी बड़ी सफलता के तौर पर पेश कर सकते हैं।

 

नीरव मोदी और चौकसी दोनों विदेश भागे

चौकसी अपने भांजे डायमंड कारोबारी नीरव मोदी (Nirav Modi) कुछ बैंकर्स के साथ मिलीभगत से विदेशी बैंकों के लिए क्रेडिट लेने के लिए फर्जी गारंटी लेने में कामयाब रहे थे। हालांकि दोनों ने ही आरोपों को खारिज किया था और विदेश भाग गए। 

 

चौकसी को भारतीय नागरिक मानता है भारत

चौकसी ने एंटीगुआ और बरबूडा का पासपोर्ट भी हासिल कर लिया है, जहां अमीर विदेशी देश में भारी भरकम निवेश करके नागरिकता हासिल कर सकते हैं। गुयाना में भारतीय उच्चायुक्त और एंटीगुआ व बरबूडा के गैर निवासी उच्चायुक्त वेंकटाचलम महालिंगम ने एक इंटरव्यू में कहा कि भारतीय अधिकारी अभी भी उनको भारतीय नागरिक के तौर पर देखते हैं।

महालिंगम ने कहा, ‘उन्होंने अपनी भारतीय नागरिकता नहीं छोड़ी है। हमने उनका पासपोर्ट रद्द कर दिया है, लेकिन इसका मतलब यह नहीं कि हमने उनकी नागरिकता रद्द कर दी है। यदि कोई अपनी नागरिकता छोड़ना चाहता है तो हम इस पर राजी नहीं हैं।’ महालिंगम ने कहा कि भारत ने अगस्त में प्रत्यर्पण का अनुरोध किया था, जिस पर चौकसी को लड़ाई लड़नी पड़ रही है।

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
Advertisement
Don't Miss