विज्ञापन
Home » Economy » International110 hardened shelters for IAF fighter jets to be built close to Paki, China borders

पाकिस्तान का मिसाइल अटैक हो जाएगा बेकार, लड़ाकू विमानों के लिए ऐसे शेल्टर बनाएगा भारत

शेल्टर बनाने पर 5 हजार करोड़ रुपए होंगे खर्च, भारत ने दी मंजूरी

1 of


नई दिल्ली. अब बॉर्डर स्थित रक्षा ठिकानों पर खड़े भारत के लड़ाकू विमानों पर पाकिस्तान की मिसाइल और बमों का कोई असर नहीं होगा। दरअसल भारत सरकार जल्द ही पाकिस्तान और चीन की सीमा पर ऐसे 110 शेल्टर बनाने जा रही है, जिससे वहां खड़े भारत के लड़ाकू विमान पूरी तरह सेफ हो जाएंगे। सरकार ने इंडियन एयरफोर्स (Indian Air Force) के लिए 110 मजबूत शेल्टर के निर्माण को मंजूरी दे दी है। 

 

मिसाइल या बम का हमला हो जाएगा बेअसर

न्यूज एजेंसी एएनआई की एक रिपोर्ट के मुताबिक, ‘केंद्र सरकार ने लगभग 110 मजबूत शेल्टर के निर्माण के प्रोजेक्ट को मंजूरी दे दी है। इन शेल्टर को ब्लास्ट पेन्स के नाम से भी जाना जाता है। इनसे फाइटर प्लेन्स को दुश्मन देश की मिसाइल या बम से होने वाले हमले की स्थिति में सुरक्षा मिलेगी।’

 

यह भी पढ़ें-F-16 के आगे कहीं नहीं टिकता भारत का MiG-21, फिर भी तोड़ा पाकिस्तान का गुरूर

 

5 हजार करोड़ का यह प्रोजेक्ट

सूत्रों ने कहा, ‘यह 5,000 करोड़ रुपए से ज्यादा का प्रोजेक्ट है। इसके तहत एयरबेस में चरणबद्ध तरीके से ब्लास्ट पेन्स का निर्माण किया जाएगा। इससे एयरफोर्स के लिए बॉर्डर के अग्रिम रक्षा ठिकानों पर सुखोई-30 एमकेआई (Su-30MKI) जैसे अत्याधुनिक फाइटर प्लेन तैनात करना संभव होगा। साथ ही जमीन पर खड़े फाइटर प्लेन्स के नुकसान की चिंता भी खत्म हो जाएगी।’
 

 

27 फरवरी को पाकिस्तान ने की थी ऐसी कोशिश

ऐसी सुविधाओं की कमी के कारण एयरफोर्स को अपने फ्रंटलाइन एयरक्राफ्ट को पाकिस्तान बॉर्डर नजदीक अपने ठिकानों पर तैनात करना संभव होगा। गौरतलब है कि इंडियन एयरफोर्स (IAF) द्वारा पाकिस्तान स्थित आतंकी ठिकानों पर हमले के बाद पाकिस्तानी एयरफोर्स ने 27 फरवरी को भारत के रक्षा ठिकानों पर हमला किया था।

 

 

यह भी पढ़ें-जिस F-16 पर इतराता है पाकिस्तान, उसे अपनी एयरफोर्स से हटाने जा रहा यह देश

 
1965 के युद्ध में हुआ था भारत को नुकसान

भारतीय सेना को पाकिस्तान के साथ 1965 की जंग में अपने कई प्लेन्स का नुकसान उठाना पड़ा था, क्योंकि भारत के फाइटर प्लेन खुले में खड़े हुए थे। तब से सेना अपने एयरक्राफ्ट को सुरक्षित रखने के लिए ऐसे ब्लास्ट पेन्स का निर्माण कर रही है।
ये शेल्टर बेहद मोटी कंक्रीट की दीवारों के बने होते हैं, जिन्हें दुश्मन के बड़े हमले के समय भी कोई नुकसान नहीं होता है।

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
विज्ञापन
विज्ञापन